डिटेक्टिव स्टाफ ने पशु चोर गिरोह के दो सदस्य काबू, पशु चोरी की 6 वारदातों का खुलासा

Spread the love

कुरूक्षेत्र ।  जिला कुरूक्षेत्र के डिटेक्टिव स्टाफ ने पशु चोर गिरोह के दो सदस्यों को काबू करके उनसे पशु चोरी की 6 वारदातों का खुलासा करने में सफलता प्राप्त की। यह जानकारी पुलिस अधीक्षक श्री सुरेन्द्र पाल सिहं ने दी ।यह जानकारी देते हुए श्री सिंह ने बताया कि जिला कुरूक्षेत्र के डिटेक्टिव स्टाफ के निरीक्षक राजेश कुमार को कडे आदेश दिये कि जिला में बढती हुई पशु चोरी की वारदातों पर अंकुश लगाया जाए।


जिस पर कार्यवाही करते हुए निरीक्षक राजेश कुमार के नेतृत्व में काम करते हुए उप निरीक्षक रिषी पाल को अम्बाला से सूचना मिली कि इसरार पुत्र मेहन्दी हसन व आश मोहम्द पुत्र रहीश मोहम्द वासीयान छोटा लापरा जिला यमुनानगर को अम्बाला पुलिस द्वारा गिरफतार किया गया, जिन्होने पूछताछ के दौरान स्वीकर किया कि उनहोने जिला कुरूक्षेत्र एरिया में भी पशु चोरी की वारदातों को अन्जाम दिया हुआ है।


पशु चोर


जिसकी सूचना पर उप निरीक्षक रिषी पाल, उप निरीक्षक सुभाष चन्द व हवलदार जसबीर सिहं की टीम ने इसरार व आश मोहम्द वासीयान छोटा लापरा जिला यमुनानगर को माननीय अदालत सेे प्रोटेक्शन वारन्ट लेकर उनसे पूछताछ शुरू की जिसने बताया कि उन्होने अपने अन्य साथियों के मिलकर जिला कुरूक्षेत्र में पशु चोरी की 6 वारदात की हुई है।


जो वारदाते बाबैन एरिया के गांव बडतौली से 1 भैंस व 1 झोटा, गांव खैरी से 1 भैंस, गांव मरचेहडी के एरिया से 1 भैंस व 1 कटडी, गांव ईशरगढ के एरिया से 1 भैंस, शाहबाद के एरिया से 2 चोरियों को भी अन्जाम दिया है। पूछताछ के दौरान यह भी कबूल किया कि चोरी की वारदातों में प्रयोग किये गये वाहन को पहले ही नारायण गढ पुलिस ने बरामद कर लिया है। उन्होने बताया कि उनका एक साथी बारू उर्फ जब्बर निवासी लापरा जिला यमुनानगर जो इस समय चोरी के मामलें में जगाधरी जेल में बन्द है व दूसरा साथी मीर हसन पुत्र अली हसन नशीली वस्तु अधिनियम के मामले में जिला कारागर सहारनपुर में बन्द है।


जिनकों प्रोटेक्शन वारन्ट पर लेकर आगामी जांच की जाएगी तथा इनके अन्य साथियों की तलाश जारी है। उन्होने पूछताछ के दौरान यह भी स्वीकार किया कि उन्होने चोरी किये गये पशुओ को यु0पी0 मे बेचकर उनसे मिले पैसों को आपस में बराबर-बराबर बांट लेते थे। जो उन्होने पैसों को खर्च कर दिये है। दोनों आरोपियो को माननीय अदालत में पेश किया गया। जो माननीय अदालत के आदेश से रिमाण्ड जुडिसियल 14 दिन पर जिला जेल कुरूक्षेत्र में भेज दिये गये है।


Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *