अखिलेश को इलाहाबाद विश्वविद्यालय में जाने की अनुमति नहीं,सपा कार्यकर्ताओं एवं पुलिस के बीच झड़प छात्र और पुलिसकर्मी घायल

Spread the love

समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को इलाहाबाद विश्वविद्यालय में आयोजित छात्रों के कार्यक्रम में शामिल होने की अनुमति नहीं दिए जाने के विरोध में समाजवादी छात्र संघ के कार्यकर्ताओं की पुलिस के साथ मंगलवार को हुई झड़प में पार्टी के बदायूं से सांसद धर्मेंद्र यादव समेत कई छात्र और पुलिसकर्मी घायल हो गए। सपा नेता विजमा यादव ने बताया कि पुलिस द्वारा लाठीचार्ज में बदायूं से सपा सांसद धर्मेंद्र यादव और 15-20 छात्र घायल हुए हैं।

 

पूर्व मुख्यमंत्री को लखनऊ हवाई अड्डे पर रोके जाने और कार्यक्रम को रद्द करने के विरोध में सपा कार्यकर्ता जुलूस के रुप में बालसन चौराहे पर जा रहे थे। जुलूस में धर्मेंद्र यादव, फूलपुर सांसदनागेन्द, सिंह पटेल, प्रवीण निषाद, सपा प्रवक्ता ऋचा सिंह सभी को बालसन चौराहे पर रोक दिया था। पुलिस द्वारा रोके जाने से आक्रोशित कार्यकर्ताओं ने चौराहे पर सरकारी होर्डिंग तोड़ दिए और टायर जलाये और पुलिस पर पथराव किया। इलाहाबाद विश्वविद्यालय छावनी में तब्दील कर दिया गया है। इससे पहले आक्रोशित सपाइयों ने सुबह लक्ष्मी टाकिज के निकट गमलो को तोडा।

 

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के समर्थकों ने अखिलेश यादव का पुतला दहन करने का प्रयास किया था जिसे पुलिस ने विफल कर दिया। पार्टी सूत्रों ने बताया कि पुलिस द्वारा लाठी चार्ज करने के विरोध में कार्यकर्ताओं ने पथराव किया। इस मामले में 100 से अधिक कार्यकर्ताओं को पुलिस लाइन ले जाया गया है। इस बीच पुलिस महानिरीक्षक मोहित अग्रवाल ने बताया कि छात्र नेताओं और उनके समर्थक बालसन चौराहे पर महात्मा गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण के लिए आए थे। बाद में उन्होंने नारेबाजी और पथराव शुरू कर दिया जिसे नियंत्रित करने के लिए पुलिस ने भी बल प्रयोग किया। उन्होंने बताया कि इस घटना में दो क्षेत्राधिकारी समेत कई पुलिसकर्मी घायल हो गए।

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *