Sat. Aug 24th, 2019

राहुल गांधी की मुहर: कमलनाथ मध्य प्रदेश के नए मुख्यमंत्री

कमलनाथ

कमलनाथ मध्य प्रदेश के नए मुख्यमंत्री होंगे। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की मुहर के बाद बृहस्पतिवार देर रात भोपाल में हुई विधायक दल की बैठक में उन्हें नेता चुना गया। बैठक में सीएम पद के दूसरे दावेदार ज्योतिरादित्य सिंधिया भी मौजूद थे। इससे पहले राहुल के घर दिनभर चली मैराथन बैठक में कमलनाथ के नाम पर सहमति बनी थी।


हालांकि राजस्थान और छत्तीसगढ़ में सीएम पद के दावेदारों के अड़ने की वजह से नामों का एलान नहीं हो सका। इन दोनों राज्यों के सीएम के नाम की घोषणा शुक्रवार को दोनों राज्यों के वरिष्ठ नेताओं से चर्चा के बाद की जाएगी।


इससे पहले राहुल के आवास पर सुबह से देर रात तक सीएम के नामों के चयन को लेकर कई दौर की बैठकें हुईं। बारी-बारी से दावेदारों समेत पर्यवेक्षकों, प्रभारियों और नेताओं से रायशुमारी के साथ-साथ प्रियंका वाड्रा की मान मनौव्वल के बाद यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी को भी हस्तक्षेप करना पड़ा।


प्रियंका व सोनिया ने ज्योतिरादित्य को कमलनाथ के नाम पर कराया राजी


सूत्रों के मुताबिक, प्रियंका व सोनिया ने ज्योतिरादित्य को कमलनाथ के नाम पर राजी कराया। कमलनाथ और सिंधिया दिल्ली से भोपाल स्थित कांग्रेस मुख्यालय रात करीब पौने 11 बजे पहुंचे। रात 11.10 बजे केंद्रीय पर्यवेक्षक एके एंटनी ने 72 वर्षीय कमलनाथ के नाम का एलान किया।


राज्य के 18वें मुख्यमंत्री बनने जा रहे कमलनाथ ने कहा कि वह शुक्रवार सुबह 10.30 बजे राज्यपाल से मुलाकात कर नेता चुने जाने और सरकार बनाने का दावा पेश करेंगे। इसी दिन शपथ ग्रहण के कार्यक्रम का एलान किया जाएगा। सूत्रों के अनुसार, वह 17 दिसंबर को 20 विधायकों के साथ शपथ ले सकते हैं।


राजस्थान में अशोक गहलोत व सचिन पायलट के बीच पेच फंसा है। एक बार ऐसा मौका आया जब लगा कि गहलोत का नाम तय हो गया है और सिर्फ घोषणा बाकी है। पायलट के साथ उन्हें जयपुर भेजे जाने और रात आठ बजे विधायक दल की बैठक बुलाने की खबरें भी आईं लेकिन गहलोत एयरपोर्ट से ही लौट आए।


एमपी का मामला सुलझाने के बाद देर रात राहुल ने एक बार फिर पायलट और गहलोत से अलग-अलग मुलाकात की। इस दौरान दोनों को मनाने की कोशिश की गई। हालांकि देर रात कोई फैसला नहीं हो सका। अब शुक्रवार को किसी एक नाम पर सहमति बनाने और नाम का एलान किया जाएगा।


साथ ही छत्तीसगढ़ में सीएम पद का नाम फाइनल करने के लिए राहुल ने केंद्रीय पर्यवेक्षक बनाकर भेजे गए मल्लिकार्जुन खड़गे के साथ देर रात बैठक की। खड़गे ने कहा कि सीएम चुनने के लिए बैठक शुक्रवार को होगी। यहां पर टीएस सिंह देव, भूपेश बघेल, चरणदास महंत और ताम्रध्वज साहू के नाम रेस में हैं।


 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *