Sun. Sep 15th, 2019

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कुरूक्षेत्र के कार्यक्रम से किया शिलान्यास, वित्त मंत्री ने इस पुण्य कार्य के लिए घरौंडा के विधायक व क्षेत्र की जनता को दी बधाई, 138 एकड़ भूमि पर प्रथम चरण में 750 करोड़ रुपये होंगे खर्च।

हरियाणा के वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने कहा कि महंत संतोष गिरी जी महाराज की तपोभूमि कुटेल में आज ऐसे महापुरूष पंडित दीनदयाल उपाध्याय के नाम से आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय का शिलान्यास भारत के तपस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के हाथों किया गया। उन्होंने मुख्यमंत्री मनोहर लाल, विधायक हरविन्द्र कल्याण व इस क्षेत्र के लोगों को बधाई दी।
उन्होंने कहा कि घरौंडा विधानसभा क्षेत्र के लोग बड़े भाग्यशाली हैं, जिन्हें सरकार द्वारा करीब 750 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय की सौगात मिली है। उन्होंने इस विश्वविद्यालय को बनाने के पुनीत कार्य के लिए 138 एकड़ जमीन निशुल्क देने पर कुटेल की जनता को साधूवाद दिया।
वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु मंगलवार को कुटेल गांव में बनने वाली पंडित दीनदयाल उपाध्याय आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय के शिलान्यास अवसर पर बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे। इस विश्वविद्यालय का शिलान्यास  कुरूक्षेत्र में आयोजित एक कार्यक्रम से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया। इस कार्यक्रम में वित्त मंत्री ने विधायक हरविन्द्र कल्याण के प्रयासों की सराहना की और कहा कि घरौंडा के विधायक ने क्षेत्र में आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय लाकर इस क्षेत्र के ही नहीं बल्कि आसपास के प्रदेशों के लोगों के स्वास्थ्य की गारंटी लेकर पुण्य का कार्य किया है।
उन्होंने कहा कि देश व प्रदेश में भाजपा का एक ही उद्देश्य है सबका साथ-सबका विकास, इसी मूल मंत्र को लेकर हम आगे बढ़ रहे हैं।
पंडित दीनदयाल उपाध्याय जी ने भारत में लोकतंत्र की जड़ों को मजबूत करने के लिए वैकल्पिक व्यवस्था की थी, जिसमें क्षेत्र और परिवारवाद की कोई परिभाषा नहीं थी। उनकी सोच थी कि भीड़ तंत्र कभी भी लोकतंत्र का प्रयाय नहीं हो सकता। उन्होंने आदर्श राजनीति के लिए एकात्मता और अंत्योदय का मूलमंत्र दिया था, जिस पर वर्तमान केन्द्रीय व हरियाणा सरकार काम कर रही है। एकात्म से कोई छोटा-बड़ा नहीं होता और अंत्योदय यानि लाईन में लगे अंतिम व्यक्ति की मदद करना शामिल है। उनके आदर्शों पर देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के बाद वर्तमान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री मनोहर लाल देश की सेवा कर रहे हैं।
वित्त मंत्री ने आगे कहा कि हरियाणा में अब भाई-भतीजावाद, रिश्वतखोरी और भ्रष्टïाचार को समाप्त कर दिया गया है। इसके फलस्वरूप नौकरियों में अब पैसा, पर्ची और सिफारिश नहीं चलती, बल्कि मैरिट के आधार पर योग्य युवाओं का चयन होता है। प्रदेश में सरकार के 4 साल के कार्यकाल में साढ़े 54 हजार कर्मचारी नौकरी पर लगाए गए हैं, अगले कुछ महीनो में यह आंकड़ा 72 हजार को पार कर जाएगा। जबकि पूर्व की सरकार में 5 साल में मात्र 9 हजार बेरोजगारो को रोजगार उपलब्ध करवाया गया था। उन्होंने आज के कार्यक्रम को ऐतिहासिक बताते हुए घरौंडा के विधायक हरविन्द्र कल्याण व क्षेत्र के लोगों को बधाई दी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *