नशीले पदार्थो की तस्करी करने के आरोप में एक को सुनाई 10 माह की क़ैद वा जुर्माना की सजा

Spread the love
कुरुक्षेत्र।     जिला कुरुक्षेत्र की अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश की अदालत ने ननशीले पदार्थो की तस्करी के आरोप में एक को सुनाई 10 माह की कैद व 5 हजार रुपये जुर्माना की सजा। यह जानकारी जिला उप न्यायवादी श्री प्रदीप चीमा ने दी।
यह  जानकारी देते हुए श्री चीमा ने बताया कि 9 अगस्त 16 थाना शहर थानेसर के ए एस आई सुरजीत सिंह, ए एस आई रमेश कुमार, मुख्य सिपाही सतपाल सिंह, सिपाही मुकेश कुमार व सिपाही शीशपाल की टीम अपराध की तलाश में पुराना बस स्टैंड के पास पहुंचे थे कि एक समाज सहयोगी ने ए एस आई सुरजीत सिंह को सूचना दी। विक्रम उर्फ़ विक्की पुत्र रुलिया राम शोरगिर निवासी नजदीक शिवमंदिर वार्ड नं०4 गाँधी नगर थानेसर जो गांजा बेचने का काम करता हैं और आज भी अपनी स्कूटी एक्टिवा नम्बर HR 07N-2172  की डिग्गी में प्लास्टिक के थैला में गांजा लेकर झांसा की तरह से आ रहा है  जिसको भद्रकाली चौक पर नाकाबंदी करके काबू किया जा सकता है।
ए एस आई सुरजीत सिंह की टीम ने भद्रकाली मंदिर के सामने झांसा रोड़ पर नाका बंदी करके सिपाही मुकेश कुमार को धारा 42 NDPS ACT  का नोटिस  लेकर उप पुलिस अधीक्षक मुख्यालय कुरुक्षेत्र के पास भेजा गया । नाकाबंदी के दौरान कुछ ही देर में मुखबिर द्वारा बताई गई स्कूटी आती दिखाई दी जिसको को रोक कर पूछा तो उसने अपना नाम विक्रम उर्फ़ विक्की पुत्र रुलिया राम वासी गाँधी नगर कुरुक्षेत्र बतलाया। जिसको एन डी पी एस एक्ट के प्रावधानों के अनुसार नोटिस दिया गया।
उसके कुछ देर बाद उप पुलिस अधीक्षक श्री कृष्ण कुमार भी मौका  पर आ गए जिसको चेक़ करने पर उसकी स्कूटी की डिग्गी से  सफेद रंग के लिफाफा से गांजा बरामद हुआ जिसमें से100/100 ग्राम के दो सैम्पल निकालकर  बाकी का वजन किया गया जो एक किलो 600 ग्राम मिला जिसके विरूद्ध नशीली वस्तु अधिनियम के तहत मामला दर्ज करके गिरफ्तार कर लिया गया। जिसकी नियमित सुनवाई श्री राजिंदर पाल सिंह अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश कुरुक्षेत्र की अदालत में चली जिसकी पैरवी श्री प्रदीप चीमा ने की। माननीय अदालत ने गवाहो व सबूतों के आधार पर दोषी करार देते हुए 10 साल की क़ैद व 5 हज़ार रुपये जुर्माना की सजा सुनाई जुर्माना ना देने की सूरत में 15 दी की सजा भुगतनी होगी।
Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *