गंदा पानी सड़कों पर फैलने पर ग्रामीणों में रोष

गंदा पानी

परेशान ग्रामीणों ने जमकर जिला प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी

गंदे पानी की निकासी न होने के कारण नालियों व गलियों में पानी भर जाने से परेशान ग्रामीणों ने जमकर जिला प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी कर रोष जताया। ग्रामीणों ने चेतावनी दी है कि अगर जल्द ही समस्या का हल नहीं किया गया तो कठोर कदम उठाने पर बाध्य होंगे। ग्रामीण रामपाल, काला, मांगे राम गौरव, हेमराज, महेंद्र पाला, काला राम, मिंका, अफसर सिंह सहित कई ग्रामीणों ने रोष जताते हुए कहा कि गांव में गंदे पानी की निकासी के लिए गांव में कोई उचित प्रबंध नहीं है।


पहले जो पानी ढांड के बीचो-बीच होकर गुजर रहे माइनर में जाता था। उसमें सिंचाई विभाग द्वारा बंद लगाने से गांव की प्रमुख गलियों में नालियों का पानी ओवरफ्लो होने के कारण भर गया है। उन्होंने बताया कि गलियों में गंदा पानी खड़े होने के कारण बीमारियों के फैलने का खतरा बढ़ गया है और मच्छरों का प्रकोप फैल गया है। ग्रामीणों को मजबूरी में कई दिनों से रोजाना गंदे पानी में से होकर गुजरना पड़ रहा है।


 

तमाम शिकायतों के बाद भी सरकार व प्रशासन इस तरफ कोई ध्यान नहीं दिया जा रहा है। जिस कारण लोग नारकीय जीवन बीताने पर मजबूर है। ग्रामीणों ने प्रदेश सरकार से मांग की है कि गांव में पानी गंदे पानी की निकासी के लिए उचित प्रबंध किए जाएं और नहीं तो स्वास्थ्य अभियान के लिए चलाई जाने वाले बड़े-बड़े आयोजन निष्फल ही समझे जाएंगे।


पंचायत कर रही है अपने स्तर पर प्रयास: सरपंच


इस बारे में गांव के सरपंच पवन कसाना ने कहा कि ढांड में गंदे पानी की निकासी के लिए कोई प्रबंध नहीं है। पंचायत अपने स्तर पर प्रयास कर रही हैं, लेकिन आबादी के हिसाब से प्रंबध काफी नहीं रहते। उन्होंने कहा कि सरकार व जिला प्रशासन के सहयोग से जल्द ही इस समस्या का हल निकाला जाएगा, ताकि ग्रामीणों को हो रही परेशानी से निजात मिल सके।


 

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *