शिमला के टूटीकंडी बाईपास पर बहुमंजिला पार्किंग बनकर तैयार

शिमला के टूटीकंडी बाईपास पर बहुमंजिला पार्किंग
Spread the love

राजधानी शिमला के टूटीकंडी बाईपास पर बहुमंजिला पार्किंग बनकर तैयार हो गई है। 750 से अधिक चार पहिया वाहनों की क्षमता वाली यह शहर की सबसे बड़ी पार्किंग है। राज्य पर्यटन निगम ने एशियन डिवेलपमेंट बैंक के सहयोग से इस पार्किंग का निर्माण किया है।  इसे बनाने में तीन साल से अधिक समय लगा और 64 करोड़ की लागत आई। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर 29 नवम्बर को इस पार्किंग का लोकार्पण करेंगे।


इसके चालू होने से शहर में पार्किंग की विकराल समस्या से काफी हद तक राहत मिलेगी। चूंकि यह पार्किंग कालका-शिमला नेशनल हाइवे के किनारे टूटीकंडी में स्थित है, ऐसे में बाहरी राज्यों से आने वाले पर्यटक वाहनों को यहां पार्क करने की सुविधा मिलेगी और इससे पर्यटक वाहनों से शहर में लगने वाले ट्रैफिक जाम से भी निजात मिलेगी।


अभी लिफ्ट के समीप कार्ट रोड में नगर निगम की पार्किंग में 400 वाहन खड़े होते हैं। पर्यटन निगम की इस पार्किंग का निर्माण चंडीगढ़ की कम्पनी ए एस कंस्ट्रक्शन ने आधुनिक तकनीक के आधार पर किया है। कम्पनी ने इस पार्किग का निर्माण कार्य जनवरी 2015 में शुरू किया था। कम्पनी के आर्किटेक्चर अरुण भंवरा कहते हैं कि इस पार्किंग को महानगरों की पार्किंगों की तर्ज पर तैयार किया गया है। इसमें आठ पार्किंग फ्लोर हैं। टॉप फ्लोर पर दो रेस्टोरेंट और दो वेटिंग हाल तथा एक बैंकट हॉल भी होगा। 500 लोगों की क्षमता वाले बैंकेट हाल को शादियों व अन्य समारोह के लिए इस्तेमाल किया जा सकेगा


 

Please follow and like us:

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *