डीसी समीरपाल सरो तथा एसपी राहुल शर्मा ने वीरवार को जिला के 9 गांवों

पानीपत/मडलौडा/इसराना, 18 जून। डीसी समीरपाल सरो तथा एसपी राहुल शर्मा ने वीरवार को जिला के 9 गांवों शिमला मौलाना, सिठाना, भालसी, कुराना, अहर, बुआना लाखु, मांडी, गवालड़ा, और कारद में खुले ग्रामीण जनता दरबार लगाकर ग्रामीणों की समस्याएं सुनी तथा उनमें से अधिकतर का  विभिन्न विभागों की अधिकारियों की उपस्थिति में मौके पर ही निवारण किया।
डीसी समीरपाल सरो ने लोगों से कन्या भ्रूण हत्या को रोकने की अपील करते हुए कहा कि महिलाएं इस सामाजिक बुराई को रोकने में अपना विशेष योगदान दे सकती हैं। उन्होंने कहा कि जनवरी माह में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ  अभियान की शुरूआत पानीपत जिला से की थी। हमें चाहिए कि समाज से इस बुराई को दूर भगाना है। उन्होंने कहा कि अपनी लड़कियों को अच्छी शिक्षा दिलवाएं और लड़का-लड़की में कोई भेद न समझें। उन्होंने इन सभी 9 गंावों में उपस्थित जनसमूह को कन्या भू्रण हत्या न करवाने और पास-पड़ौस में भ्रूण हत्या न होने देने की शपथ भी दिलवाई।
उपायुक्त ने इन ग्रामीण जन सभाओं में कहा कि मौजूदा जनहितैषी सरकार की मंशा है कि पूर्ण पारदर्शिता तथा ईमानदारी से जिला प्रशासन उनके घर-द्वार पर पहुंचकर लोगों की समस्याओं का निवारण करें। मौकेDSCN0949 पर समस्याएं सुनने की कड़ी में ये ग्रामीण जनता दरबार लगाए जा रहे हैं ताकि ग्रामीणों को जिला मुख्यालयों, मण्डल मुख्यालयों और चण्डीगढ़ में विभिन्न विभागों के मुख्यालयों के बार-बार चक्कर न लगाने पड़े।
समीरपाल सरो ने इन खुले जनता दरबारों में ग्रामीणों से आहवान किया कि वे समूचे गांव का लाभ और  सभी का भला करने वाली विकास योजनाओं को अमलीजामा पहनाने के लिए आवेदन करें। ताकि उसी अनुसार परियोजनाएं बनाकर सरकार के पास अनुशंसा सहित भेजकर समूचे गांव का भला करवाया जा सके। उन्होंने दावा किया कि सीएम विंडों प्रणाली तथा ई-रजिस्ट्रेशन प्रणाली शुरू हो जाने से लोगों में खुशी की लहर है। लोग केवल रजिस्टरी व जमीन आदि से सम्बन्धित अपने काम करवाने के लिए रसीद पर दर्शाई गई राशि का ही भुगतान करने के अलावा किसी भी अधिकारी/कर्मचारी को एक नया पैसा भी अधिक न दें और यदि कोई ऐसी मांग करें तो उनके नोटिस में लाएं ताकि ऐसे भ्रष्टाचारियों का पक्का ईलाज किया जा सकें। उन्होंने कहा कि देश-प्रदेश के विकास का रास्ता गांवों से होकर गुजरता है। इसलिए ग्रामीण क्षेत्र का तीव्र विकास हरियाणा सरकार की प्राथमिकता है और यह तभी सम्भव है जब सरकारी योजनाओं को पूरा करवाने में ग्रामीण पूरा सहयोग दें।
आधार कार्ड को सभी सरकारी योजनाएं लागू करने में एक महत्वपूर्ण दस्तावेज बताते हुए उपायुक्त ने सभी ग्रामीणों का आहवान किया कि वे अपने आधार कार्ड शत-प्रतिशत बनवाएं ताकि उन्हें बाद में कोई दिक्कत न हो तथा  सरकारी योजनाओं का लाभ बैंकों के माध्यम से सीधा उनके खाते में जमा हो सकें। इस मौके पर इन गांवों में आधार कार्ड भी बनाए गए। जिन गांवों में आधार कार्ड बनवाने वालों की संख्या ज्यादा है, उपायुक्त ने वहां विशेष शिविर लगवाकर सभी के आधार कार्ड मौके पर बनवाने का भरोसा दिलाया। उन्होंने सभी खुले दरबारों में जिला प्रशासन की ओर से बनाई गई सभी कल्याणकारी योजनाओं, विकास कार्यक्रमों और जिला की ऐतिहासिक जानकारियों से परिपूर्ण पत्रिका का न केवल विमोचन किया, बल्कि उस पत्रिका को पढऩे का ग्रामीणों का आहवान भी किया तथा गांव बुआना लाखु में बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ पर आधारित बेटी कहे पुकार के नामक सीडी का विमोचन भी किया। उन्होंने ग्रामीणों को बिजली के बिल समय पर भरने तथा जल की बचत और जल को संरक्षण देने और वर्षा काल में और अधिक पौधारोपण करने का आहवान भी किया।
पुलिस अधीक्षक राहुल शर्मा ने इन खुले ग्रामीण जनता दरबारों में जोर देकर कहा कि समाज विरोधी गतिविधियों में  संलिप्त न हों तथा अवैध गतिविधियों में शामिल लोगों का किसी भी प्रकार का सहयोग न करें और उन्हें पकड़वाने में पुलिस प्रशासन का भरपूर सहयोग करें। दोषी पाए जाने वालों के विरूद्ध नियमानुसार कड़ी कानूनी कार्यवाही की जाएगी, जबकि ऐसे तत्वों का पता बताने वालों का नाम गुप्त रखा जाएगा ताकि गांवों में परस्पर भाईचारा बना रहे।
राहुल शर्मा ने कहा कि पुलिस विभाग द्वारा हर समय नामक पोर्टल शुरू किया गया है। इस पर कोई भी व्यक्ति अपनी शिकायत दर्ज करवाकर उसकी रसीद ऑन लाईन ले सकता है, जो कि एफआईआर की प्रति के बराबर ही मानी जाएगी। उन्होंने कहा कि महिला की सुरक्षा के लिए 1091 महिला हैल्पलाईन शुरू की गई है। कोई भी महिला जो घरेलु या अन्य हिंसा की शिकार हो, इस नम्बर पर फोन कर सूचना दे सकती है, उस महिला को तुरन्त पुलिस सहायता उपलब्ध करवाई जाएगी।
पुलिस अधीक्षक ने कहा कि सैक्टर 13-17 में रक्षा बंधन त्यौहार तक महिला पुलिस थाना बना दिया जाएगा। इसके लिए जगह चिन्हित कर दी गई है। उन्होंने कहा कि बदलते समय में आमजन की पुलिस के साथ काम करने की भावना बदलनी होगी। इसमें लोगों का विशेष योगदान चाहिए। उन्होंने कहा कि आमजन भी यहां किराएदार रखें, उसकी पुलिस वैरीफिकेशन जरूर करवा लें। पुलिस विभाग आमजन के साथ कदम से कदम बढ़ाने के लिए तैयार है।
अतिरिक्त उपायुक्त सुजान सिंह ने भी ग्रामीणों को सम्बोधित करते हुए भरोसा दिलाया कि जिला ग्रामीण विकास एजैंसी ग्रामीण उत्थान के लिए कृत संकल्प है। लोगों को सामूहिक जनहित की परियोजनाएं प्रशासन के पास लानी चाहिए, क्योंकि वे अपने घर और गांव की समस्याओं से भलिभांति परिचित हैं। ग्रामीणों को चाहिए कि वे नरेगा जैसी जीवन उत्थान की योजनाओं का पूरा लाभ उठाकर अपना जीवन-स्तर उंचा उठाएं।
एडीसी सुजान सिंह ने कहा कि हर समस्या का समाधान लोगों के पास ही होता है। समस्या को किस योजना के तहत खत्म करना है, उस कार्य में जिला प्रशासन आम व्यक्ति के साथ खड़ा है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा चलाए जा रहे स्वच्छता अभियान में गांव के युवा कल्ब और ग्रामीण समर्पित भावना से कार्य करें। सफाई के प्रति सजिन्दा रहें। यह हम सबकी सामूहिक जिम्मेदारी है। आज के सभी खुले दरबारों मे ग्रामीणों ने बिजली की जर्जर तारों को बदलवाने, तालाबों की रिटर्निंग वाल बनवाने और गांवों में खेल स्टेडियम व ग्राम सचिवालय शीघ्र खुलवाने की मांग की।
इन खुले जनता दरबारों में पानीपत के एसडीएम सुभाष श्योराण सहित जिला के सभी विभागों के अधिकारी भी मौके पर बड़ी संख्या में मौजूद रहें।
फोटो परिचय-943,45,47,49,55,58,60,63,65-जिला के गांवों शिमला मौलाना, सिठाना, भालसी, कुराना, अहर, बुआना लाखु, मांडी, गवालड़ा, और कारद में खुले ग्रामीण जनता दरबार लगाकर ग्रामीणों की समस्याएं सुनते डीसी समीरपाल सरो व एसपी राहुल शर्मा।

पानीपत  18 जून। समाज के लोगों को आर्थिक और सामाजिक सुरक्षा चक्र प्रदान करने के लिए देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 9 मई को एक महत्वकांशी योजना शुरू की। प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा नामक योजना के तहत लोगों द्वारा खाते खुलवाने का काम पूरे जोरों पर है। इसका मुख्य उद्देश्य समाज के हर वर्ग का आर्थिक उत्थान करना है और यदि किसी कारण किसी भी व्यक्ति की किसी दुर्घटना में मृत्यु हो जाती है तथा उसका किसी भी बैंक में पहले से खाता है और निर्धारित मापदंड के  तहत प्रार्थी ने इस स्कीम के अनुसार 12 रूपये प्रतिवर्ष के हिसाब से बीमे का लाभ लेनेे के लिए जमा करवाएं है और आवेदन किया है तो संबंधित व्यक्ति के नामित को 2 लाख रूपये बीमा राशि का लाभ मिलेगा।
इस स्कीम में यह भी स्पष्ट है कि यदि दुर्घटना में दोनों आंखे, दोनों हाथ तथा दोनों पैर चले जाते हैं तो भी उसे 2 लाख रूपये का बीमा लाभ दिया जाएगा। यदि किसी व्यक्ति की दुर्घटना में एक लांख, एक टांग और एक हाथ चला जाता है तो भी उसे बीमे के रूप में एक लाख रूपये की राशि मिलेगी। यह कदम सरकार ने इसलिए उठाया है ताकि दुर्घटना ग्रस्त व्यक्ति अपने आपको लाचार महसूस न करें और यह राशि राहत के रूप में उसकी मदद कर सके। इस स्कीम के तहत लाभ लेने के लिए प्रार्थी की आयु 18 से 70 वर्ष होनी चाहिए।
प्रधानमंत्री ने इसी दिन एक दूसरी स्कीम भी शुरू की जिसका नाम प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना है। इस योजना के तहत प्रार्थी की आयु 18 से 50 वर्ष तक होनी चाहिए। इस स्कीम के तहत लाभ लेने के लिए संबंधित व्यक्ति का किसी भी बैंक में खाता होना चाहिए और यदि पहले से किसी बैंक में खाता है तो दोबारा खता खुलवाने की आवश्यकता नहीं है। उसी बैंक में बीम के लिए आवेदन करना होगा, स्कीम के अनुसार संबंधित व्यक्ति को 330 रूपये सालाना जमा करवाने होंगे या 330 रूपये सालाना निर्धारित मापदंड के अनुसार संबंधित व्यक्ति के खाते में से बीमा योजना के तहत काट लिए जाएंगे और उसका बीमा मान्य हो जाएगा। स्कीम के अनुसार यदि बीमार्थी की किसी भी कारण मृत्यु हो जाती है तो उसके नामित को 2 लाख रूपये की बीमा राशि मिलेगी। स्कीम के अनुसार कोई भी व्यक्ति जिसकी उम्र 50 वर्ष तक है और वह स्कीम के तहत सदस्य बन जाता है तो 55 वर्ष की आयु तक इस स्कीम का लाभ उठा सकता है। यदि किसी व्यक्ति का कईं बैंकों में खाता है, लेकिन स्कीम का लाभ लेने के लिए एक ही बैंक में आवेदन कर सकता है। इसीलिए खाते को आधार नम्बर से जोड़ा जा रहा है।
भारत सरकार द्वारा 9 मई को शुरू की गई, उक्त स्कीमों के तहत संबंधित बीमार्थियों को 31 मई 2015 तक बीमा करवाने का प्रावधान था, लेकिन अब सरकार ने दोनों स्कीमों के तहत इसकी तिथि बढाकर 31 अगस्त 2015 कर दी है। अब कोई भी व्यक्ति संबंधित खतापरक बैंक में अपना आवेदन कर सकता है। सबसे बड़ी बात स्कीम में यह है कि बीमा करने वाले को अपना मेडिकल करवाने की आवश्यकता नहीं है।
इसी दिन प्रधानमंत्री ने सभी के लिए नई अटल पेंशन योजना शुरू की है, इस योजना के तहत जिस व्यक्ति की उम्र 18 से 40 वर्ष तक है और 60 वर्ष की उम्र होने के बाद पेंशन लेना चाहता तो संबंधित व्यक्ति का किसी भी बैंक में खाता होना अनिवार्य है। वह इस येाजना के तहत सदस्यता ले सकता है। संबंधित व्यक्ति को इस योजना के तहत यह निर्णय लेना होगा कि वह किस स्लैब के तहत पेंशन लेना चाहता है, चूंकि इस योजना के तहत एक हजार रूपये से लेकर 5 हजार रूपये प्रतिमाह पेंशन लेने के 5 स्लैब हैं। इस योजना  के तहत यदि किसी व्यक्ति की आयु 18 वर्ष है और वह 60 वर्ष के बाद 1 हजार रूपये प्रतिमाह पेंशन प्राप्त करना चाहता है तो उसे 42 रूपये प्रति माह इस योजना के तहत जमा करवाने होंगे। इस स्कीम के तहत आवेदन करने पर उसके खाते से 42 रूपये अपने आप कटते रहेंगे। लेकिन इसके लिए यह जरूरी है कि संबंधित बीमार्थी को अपने खाते में कम से कम इतने पैसे अवश्य रखने होंगे। इसी तरह यदि कोई व्यक्ति 60 साल की उम्र के बाद 5 हजार रूपये पेंशन लेना चाहता है तो उसे प्रतिमाह 210 रूपये जमा करवाने होंगे या फिर पेंशन स्कीम का लाभ लेने के लिए उसके खाते में 210 रूपये प्रतिमाह अपने आप कट जाएंगे। अटल पेंशन योजना के तहत संबंधित प्रार्थी को पहले पांच वर्ष तक जमा करवाई गई राशि पर 50 प्रतिशत या 1 हजार रूपये अधिकत्तम वार्षिक सरकार द्वारा उसके पेंशन खाते में दिया जाएगा।
उपायुक्त समीरपाल सरो ने लोगो ंसे अपील की है कि उक्त बीमा योजनाओं का ज्यादा से ज्यादा लाभ उठाएं। उन्होंने बताया कि भारत सरकार द्वारा शुरू की गई उक्त स्कीमों का लाभ लेने के लिए संबंधित प्रार्थी राष्ट्रीय टोल फ्री नम्बर 1800110001 / 18001801111 पर सम्पर्क कर सकता है या फिर उस बैंक से उक्त स्कीमों बारे जानकारी हासिल कर सकते है, जिस बैंक में संबंधित प्रार्थी का खाता है। पानीपत 18 जून। पानीपत शहरी विधायक रोहिता रेवड़ी ने कहा कि 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर दुनिया के 177 देशों के लोग जाति-धर्म व वर्ग सम्पद्राय को भुलाकर सामुहिक रूप से योग करेंगे। देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी इसी दिन दिल्ली में राजपथ पर योग कार्यक्रम में शामिल होकर योग करेंगे। उन्होंने कहा कि हरियाणा में 21 जून को जिला स्तर पर होने वाले योग कार्यक्रमों में प्रदेश के एमपी, मंत्री, विधायक तथा अन्य कोई न कोई केंद्रीय मंत्री शामिल होंगे। यह दिन देश के लिए एक उत्सव का दिन है। यह दिन ऐसा लगना चाहिए कि आज प्रदेश में कोई विशेष कार्यक्रम आयोजित हो रहा है।

Leave a Comment