1 अक्तूबर से होगा मतदाता सूची का विशेष पुनरीक्षण

DPR_0012
सोनीपत, (आदेश त्यागी घसौली ) सोनीपत   अतिरिक्त  उपायुक्त शिवप्रसाद शर्मा ने कहा कि लोकतंत्र की सफलता शुद्ध मतदाता सूची पर निर्भर करती है। लोकतंत्र की मजबूती के लिए मतदाता सूची का सही होना अति आवश्यक है, जो कि लोकतंत्र की नींव है। इसलिए निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार 1 अक्तूबर से मतदाता सूची का पुनरीक्षण कार्य प्रारंभ किया जा रहा है, जिसमें सभी का सहयोग अपेक्षित है।
 1 जनवरी, 2017 को आधार तिथि मानकर मतदाता सूचियों का विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण शुरु किया जा रहा है, जिसकी सफलता के लिए शुक्रवार को लघु सचिवालय के तृतीय तल स्थित सभागार में एक बैठक का आयोजन किया गया। बैठक में बीएलओ, सुपरवाईजर, राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों तथा अन्य संबंधित अधिकारियों ने हिस्सा लिया, जिसकी अध्यक्षता अतिरिक्त उपायुक्त शिवप्रसाद शर्मा कर रहे थे।
अतिरिक्त उपायुक्त शिवप्रसाद शर्मा ने कहा कि 1 अक्तूबर, 2016 को मतदाता सूची का ड्राफ्ट प्रकाशित किया जाएगा, जिसे हर व्यक्ति देख सकता है। उन्होंने कहा कि 1 अक्तूबर से 31 अक्तूबर तक मतदाता सूची के संदर्भ में दावे तथा आपत्तियां आमंत्रित की जाएंगी। इस बीच 7 व 14 अक्तूबर को ग्राम सभा/ स्थानीय निकाय/आरडब्ल्यूए की बैठकों का आयोजन किया जाएगा, जिसमें वोटर लिस्ट में शामिल नामों को पढ़कर सुनाया जाएगा। इसके बाद 16 व 23 अक्तूबर को राजनीतिक दलों के बूथ लेवल एजेंटों के साथ मिलकर विशेष कैम्पेन चलाते हुए दावों व आपत्तियों को लिया जाएगा। तत्पश्चात् 30 नवंबर, 2016 से प्राप्त दावे व आपत्तियों का निपटान किया जाएगा। उन्होंने कहा कि 10 जनवरी, 2017 को मतदाता सूची का फाइनल प्रकाशन किया जाएगा।
अतिरिक्त उपायुक्त ने कहा कि मतदाता सूची के शुद्धिकरण के साथ-साथ इस कार्यकाल के दौरान नई वोट बनाने का कार्य भी किया जाएगा। उन्होंने कहा कि जिस युवा की आयु 1 जनवरी, 2017 तक या इसके पहले 18 वर्ष की हो जाती है वह अपनी वोट बनवा सकता है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में वोट का विशेष महत्व होता है। इसलिए मतदाता सूची को बहुत गंभीरता एवं जिम्मेदारी के साथ तैयार करना है। मतदाता सूची के ड्राफ्ट के प्रकाशन को देखने के बाद कोई भी मतदाता अपने मतदाता पहचान पत्र में आवश्यक परिवर्तन करा सकता है। यदि किसी का नाम, पता आदि गलत प्रकाशित हुआ है अथवा सूची में नाम ही नहीं है तो वह संबंधित बीएलओ या इलैक्शन तहसीलदार से संपर्क साध सकता है। उन्होंने कहा कि इस समयावधि में मतदाताओं की शिकायतों को दूर किया जाएगा। उन्होंने युवाओं का आह्वान किया कि वे अपने वोट अवश्य बनवायें।
शिवप्रसाद शर्मा ने राजनीतिक दलों से अपील की कि वे शीघ्रातिशीघ्र अपने बूथ लेवल एजेंट नियुक्त कर उसकी सूचना बीएलओ अथवा संबंधित अधिकारी तक पहुंचा दें। उन्होंने कहा कि राजनीतिक दलों के बूथ लेवल एजेंट सरकारी बीएलओ को पूर्ण सहयोग करें ताकि मतदाता सूची में हर प्रकार की त्रुटियों को दूर किया जा सके। उन्होंने कहा कि सही मतदाता सूची तैयार करने के लिए सबको सहयोग करना होगा। इस दौरान उन्होंने नगर निगम एवं नगर पालिका के  अधिकारियों को निर्देश दिया कि वे अपने कार्यालयों में तथा सार्वजनिक स्थानों पर मतदाता सूची के विशेष पुनरीक्षण कार्य के संदर्भ में बैनर, पोस्टरों के माध्यम से मतदाताओं को जानकारी प्रदान करें। बैठक में शामिल प्राचार्यों को निर्देश देते हुए उन्होंने कहा कि स्कूल-कालेजों तथा अन्य शिक्षण संस्थानों में मतदाता जागरूकता विषय पर विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन कराया जाए तथा विद्यार्थियों को विशेष रूप से जागरूक किया जाये।
अतिरिक्त उपायुक्त शिवप्रसाद शर्मा ने सीएमओ को निर्देश दिया कि वे सामान्य अस्पताल तथा सीएचसी एवं पीएचसी आदि में बैनर, पोस्टर तथा आशा वर्करों आदि माध्यमों से मतदाताओं को जागरूक करने में सहयोग दें। पीओ आईसीडीएस को उन्होंने निर्देश दिया कि उनकी बीएलओ निर्धारित तिथियों पर अपने बूथों पर अवश्य उपस्थित रहकर मतदाता सूचियों को दुुरुस्त करें। उन्होंने जिला खेल अधिकारी को निर्देश दिया कि साईकिल रैली के माध्यम से मतदाताओं को जागरूक करें।
बैठक में नगराधीश सुरेंद्र सिंह, जिला राजस्व अधिकारी सुरेश कुमार, इलैक्शन तहसीलदार सरला कौशिक, तहसीलदार हितेंद्र शर्मा, प्रिंसीपल जितेंद्र छिक्कारा सहित बीएलओ, सुपरवाईजर तथा राजनीतिक दलों के प्रतिनिधि मौजूूद थे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *