बाल कल्याण समिति रोहतक के अध्यक्ष डा. राजसिंह सांगवान ने कहा कि जिला में किसी भी प्रकार की बाल मजदूरी या बच्चों के शोषण को बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

रोहतक,(02 आदेश त्यागी )   डा. राजसिंह बुधवार को कैनाल रैस्ट हाऊस के सभागार में पत्रकार वार्ता को सम्बोधित कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि जिला से बाल मजदूरी बिल्कुल समाप्त करनी है। उन्होंने कहा कि जिला में भिखारियों द्वारा बच्चों को साथ लेकर भीख मांगना भी एक अपराध की श्रेणी में आता है। इसे समाप्त करने के लिए समाज के लोगों से अपील है कि ऐसे भिखारियों को भीख न दें अपितु ऐसा दिखाई दिए जाने पर उसकी सूचना तुरंत पुलिस थाने में दें। उन्होंने कहा कि प्रत्येक थाने में स्पैशल जुनेवाईल आफिसर लगाए गए हैं, जो शिकायत पर तुरंत कार्यवाही करेंगे तथा सूचना देने वाले व्यक्ति का नाम गुप्त रखा जाएगा। उन्होंने कहा कि बाल कल्याण समिति ने सीडब्ल्यूसीरोहतक के नाम से फेसबुक भी बनाई है, जिस पर बच्चों पर हो रहे अत्याचार व बाल मजदूरी आदि की शिकायत दी जा सकती है। किसी भी प्रकार की बाल मजदूरी व बच्चों के शोषण की शिकायत चाईल्ड हैल्पलाईन के दूरभाष नम्बर 1098 पर भी दी जा सकती है। उन्होंने कहा कि जिला बाल संरक्षण ईकाई बच्चों की हर जरूरत को पूरा करती है। यह ईकाई अनाथ बच्चों के लिए सरकार द्वारा चलाई गई स्पॉन्सर स्कीम के तहत अनाथ बच्चों की देखभाल करने वालों के लिए 2000 रूपये पेंशन के रूप में दे रही है। उन्होंने जिला में आने वाली सभी पंचायतों से अपील की कि वे बच्चों का किसी भी रूप में शोषण न होने दें। उन्होंने कहा कि बच्चें हमारे देश का भविष्य हैं और इन्हें अच्छी शिक्षा देना देश के हर नागरिक की जिम्मेदारी है।
इस अवसर पर बाल कल्याण समिति के सदस्य नीलम, उमा देवी, पूजाकिरन व गणेश कुमार उपस्थित रहे

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *