एटीएम नंबर पूछकर निकाले साढ़े 19 हजार रुपए

सोनीपत इंडिया की दहाड़ , ( आदेश त्यागी ) भारतीय स्टेट बैंक खरखौदा शाखा के एक खाताधारक पवन कुमार का एटीएम नंबर पूछकर उसके खाते से तीन बार में करीब 19,500 रुपए की राशि पीओएस मशीन के माध्यम से चोरी कर ली गई। बैंक मैनेजर बनकर पवन कुमार के साथ धोखा होता रहा और पवन कुमार बार-बार उन्हें अपना ओटीपी नंबर बताता रहा। यही नहीं पवन के पास बार पैसे कटने के एसएमएस भी आते रहे, लेकिन पैसे निकलने की सूचना देने वाले एसएमएस पर पवन ने कोई ध्यान नहीं दिया। बात में जब आखिरी मैंजेस में देखा कि उसके खाते में 19,500 हजार की बजाय मात्र 70 रुपए शेष रह गए हैं। उसके होश उड़ गए और अज्ञात शातिर आरोपी पवन को सुझाव देने लगा कि अब आपका एटीएम ठीक हो गया है आप बैंक में 5 हजार रुपए की राशि ओर जमा करवा दें। ताकि आपका एटीएम वर्किंग करने लगे। लेकिन उस समय तक पवन कुमार को एहसास हो चुका था। इसके बार पवन ने आरोपी की रिकार्डिंग भी की और मामले की शिकायत पुलिस को भी दी गई है। लेकिन इस तरह का ऐसा पहला मामला नहीं है। हालांकि स्टेट बैंक प्रबंधक कर्मबीर भौरिया खाता धारकों को बार-बार जागरूक कर रहे हैं कि इस तरह के फोन बैंक कभी नहीं करता और किसी भी खाता धारक को अपने खाते व एटीएम से संबंधित जानकारी किसी भी व्यक्ति को नहीं बतानी चाहिए चाहे व मैनेजर ही क्यों न हो? उन्होंने कहा कि वे निरंतर खाता धारकों को इस संदर्भ में जागरूक कर रहे हैं। लेकिन इसके बाद भी इस तरह की वारदातें सामने आ रही है। जिससे खाता धारकों को चूना लग रहा है। पवन कुमार बाग को किराए पर लेकर मजदूरी कर अमरुद बेचने का काम करके अपने परिवार को पाल रहा है और उसने यह पूंजी जमा की थी।

Leave a Comment