खरखौदा के दरगू वाले तालाब में अवैध रूप से डाली गई मिट्टी को उठाने की मांग प्रशासन से की

सोनीपत इंडिया की दहाड़ ,  ( आदेश त्यागी )    बीते कई दिनों से खरखौदा के दरगू वाले तालाब में मिट्टी डालकर उस पर अवैध कब्जा करने का मामला सुर्खियों में हैं। गांव की ओर से पंचायत कर ना केवल अवैध कब्जा करने वालों पर कार्रवाई की मांग की जा रही है। वहीं मंगलवार को हुई पंचायत में तालाब में डाली गई मिट्टी को उठाने का मामला उठा। पंचायत में एसडीएम राजीव अहलावत व तहसीलदार शिव कुमार सैनी भी पहुंचे। जिसके बाद फैसला लिया गया कि तालाब में डाली गई मिट्टी को उठाकर खरखौदा के विभिन्न कच्चे रास्तों में डाल दिया जाए।
खरखौदा की महात्मा ज्योतिबा फूले वाटिका में मंगलवार को पंचायत हुई। जिसमें खरखौदा के दरगू वाले तालाब में अवैध रूप से डाली गई मिट्टी को उठाने की मांग प्रशासन से की गई। पंचायत में पहुंचे एसडीएम राजीव अहलावत ने प्रशासन द्वारा तालाब से मिट्टी उठवाने से मना किए जाने पर पंचायत ने कहा कि वह तालाब में डाली गई मिट्टी को अपने खर्च पर उठवाएंगे। जिस पर भी एसडीएम ने एतराज जताते हुए कहा कि उठाई गई मिट्टी को किसी निजी जगह पर नहीं डालने दिया जाएगा। जिसके बाद पंचायत ने फैसला लिया कि खरखौदा के विभिन्न कच्चे रास्तों पर उक्त मिट्टी को डाला जाएगा। जिसमें पांच सदस्यों की गठित की गई कमेटी देखरेख करेगी।
गौरतलब है कि खरखौदा के रोहतक मार्ग पर कन्या कॉलेज के पीछे स्थित तालाब में मिट्टी डालकर भरत किया जा रहा था। खरखौदा वासियों ने इस पर एतराज जताते हुए पंचायत बुलाई। पंचायत में तहसीलदार शिव कुमार सैनी ने दोनों पक्षों की एक कमेटी बनाकर निर्णय लेने की बात कही। जिस पर पंचायतियों ने कहा कि जब कोई तालाब में मिट्टी डालने की बात स्वीकार ही नहीं कर रहा है तो दूसरा पक्ष है ही कहां? ऐसे में खरखौदा वासियों को तालाब से मिट्टी उठाने की इजाजत प्रशासन दें, ताकि वह अपनी कार्रवाई को अंजाम दे सके। वहीं पंचायत ने यह कहा कि अगर प्र्रशासन तालाब से मिट्टी खुद नहीं उठा सकता है तो खरखौदावासी इस मिट्टी को उठाऐंगे ओर खरखौदा के विभिन्न कच्चे रास्तों व सार्वजनिक स्थानों पर डालेंगे। जिस पर एसडीएम द्वारा शहर वासियों की एक पांच सदस्यीय कमेटी व मिट्टी उठाने वाले डंफरों के नंबर लिखकर उन्हें देने की बात कही। ताकि आगामी कार्रवाई की मंजूरी दी जा सके। पंचायत में रामकंवार सैनी, जिले सिंह सरोहा, अजीत सैनी, प्रेम जांगड़ा, नरेंद्र पारासर,  सतीश अरोड़ा, श्यामपाल, प्रवीन सैनी, प्रेम उर्फ लीला, प्रदीप सैनी, उमेद सैनी आदि मौजूद रहे।

Leave a Comment