सीएम और डीजीपी से समय न मिलने से कमेटी मायूस 2 जनवरी को होगी एक्शन कमेटी की बैठक छात्रा के माता-पिता ने राष्ट्रपति से लगाई आत्मदाह की गुहार 

सोनीपत इंडिया की दहाड़ ब्यूरो ( आदेश त्यागी )     राजकीय कॉलेज गोहाना की बीएससी की छात्रा के अपहरण, दुष्कर्म और हत्या के मामले में आंदोलन के लिए गठित एक्शन कमेटी मायूस है। बार-बार संपर्क करने के बावजूद सीएम व डीजीपी कमेटी को मुलाकात का समय नहीं दे रहे हैं। ऐसे में नाराज एक्शन कमेटी 2 जनवरी को अपनी पूर्व घोषित बैठक कर आगामी रणनीति तैयार करने के लिए कमर कस रही है। उधर छात्रा के माता-पिता राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी को पत्र लिख कर उनसे पूरे परिवार को सामूहिक आत्मदाह की इजाजत देने की मांग कर चुके हैं।
राजकीय कॉलेज की छात्रा के मामले में मुख्य आरोपी की गिरफ्तारी व छात्रा को जिंदा या मुर्दा बरामद करने की मांग को लेकर एक्शन कमेटी के नेतृत्व में क्षेत्र के लोग आंदोलन कर रहे हैं। कमेटी के सदस्य 22 दिसंबर को रोहतक हाइवे स्थित शहर के तिराहे और 26 दिसंबर को लघु सचिवालय में दो-दो घंटे के सांकेतिक धरने दे चुके हैं। लघु सचिवालय के परिसर में दिए गए धरने पर तय हुआ था कि छात्रा को जिंदा या मुर्दा बरामद करने और मुख्यारोपी विक्रम की गिरफ्तारी की मांगों को लेकर एक्शन कमेटी चंडीगढ़ जाएगी। जहां सीएम और डीजीपी से मुलाकात करेगी। दोनों मुलाकातें 2 जनवरी से पहले की जानी थीं। दो जनवरी को दो ही दिन बचे हैं, लेकिन अब तक सीएम और डीजीपी से मुलाकात होना दूर, इसके लिए वक्त तक नहीं मिल पाया है। एक्शन कमेटी के अध्यक्ष और नरवाल खाप के अध्यक्ष भले राम नरवाल के अनुसार वह सीएम हाउस और डीजीपी कार्यालय से तीन-तीन बार संपर्क कर चुके हैं। एक्शन कमेटी ने स्पष्ट बता दिया है कि मुलाकात के लिए 30 व्यक्ति आएंगे। अब शनिवार और रविवार के साप्ताहिक अवकाशों के चलते मुलाकात के आसार बहुत कम हैं। सोमवार को एक्शन कमेटी को बैठक करनी है। कमेटी में भाजपा सहित सब अहम राजनीतिक दलों के बड़े नेता शामिल हैं जो दलीय राजनीति से ऊपर उठ कर छात्रा के परिवार का साथ दे रहे हैं। नरवाल ने कहा कि 2 जनवरी की एक्शन कमेटी की बैठक तयशुदा कार्यक्रम के मुताबिक होगी। पुलिस मुख्यारोपी की गिरफ्तारी पर 50 हजार रुपये का इनाम घोषित कर चुकी है। बता दें कि गांव भंडेरी निवासी और राजकीय कॉलेज की छात्रा का 12 नवंबर को कॉलेज के बाहर से गांव खानपुर कलां के विक्रम ने अपहरण किया था। विक्रम पर छात्रा से दुष्कर्म व हत्या के बाद शव को खुर्द-बुर्द करने का आरोप है। उधर छात्रा के माता-पिता राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी को पत्र लिख कर उनसे पूरे परिवार को सामूहिक आत्मदाह की इजाजत देने की मांग कर चुके हैं।

Leave a Comment