उपायुक्त ने गांवों में जाकर किया खुले में शौच मुक्त करने का आह्वान

सोनीपत,इंडिया की रिपोर्टर ( अमित त्यागी )       IMG-20170104-WA0051 जिला को खुले में शौच मुक्त करने के लिए चल रहे अभियान के तहत बुधवार को उपायुक्त के मकरंद पांडुरंग ने जिला के गांव जाहरी और उल्देपुर में जाकर ग्रामीणों को जागरूक किया। एसडीएम (ना.) निशांत यादव और सीटीएम सुरेंद्र दून सहित पूरे प्रशासनिक अमले के साथ पहुंचे उपायुक्त ने ग्रामीणों के साथ बातचीत की और जल्द से जल्द पूरे जिला को खुले में शौच मुक्त करने का संकल्प दिलवाया बुधवार सुबह प्रात: 4:00 बजे सबसे पहले उपायुक्त पूरे प्रशासनिक अमले के साथ जाहरी गांव में पहुंचे और उसके बाद उल्देपुर गांव में। यहां उन्होंने सबसे पहले गांव में खुले में शौच जा रहे लोगों को समझाया और खुले में शौच के नुकसान बताए। उन्होंने बताया कि स्वच्छता हमारी सबसे पहली प्राथमिकता है और हमें इसके लिए खुद प्रयास करने होंगे। उपायुक्त ने कहा कि खुले में शौच जाने से गांवों में कई बीमारियां फैलती हैं और जिसकी वजह से लोग बीमार रहते हैं। उन्होंने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति शौचालयों का प्रयोग करें और जो लोग खुले में शौच जाते हैं उन्हें भी शौचालयों के प्रयोग के लिए प्रेरित करें। उन्होंने कहा कि स्वच्छता के बारे में जानते सभी हैं लेकिन मानने की कोशिश नहीं करता। ऐसे में हमें स्वच्छता को अपनाना भी है और दूसरों को भी स्वच्छता के लिए प्रेरित करना है।  पांडुरंग ने कहा कि अगर हम खुले में शौच जाते हैं तो उसी शौच पर मक्खियां बैठती हैं और यही मक्खियां बाद में हमारे घर में खाने पर आकर बैठ  जाती हैं। उन्होंने कहा कि हमें खुद और अपने परिवार को स्वस्थ रखने के लिए खुले में शौच मुक्त कर अपने गांवों के लोगों को शौचालयों के प्रयोग के लिए प्रेरित करना होगा।

 

Leave a Comment