हरियाणा में कानून व्यवस्था बुरी तरह गड़बड़ाई

 

 

sunil phogat

जिले के गांव भालोट में इनैलो के प्रदेश युवा सचिव के
कार्यालय पर गढ़ी-सांपला-किलोई हलके के कार्यकत्र्ताओं की एक महत्वपूर्ण
बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में इनैलो के प्रदेश युवा सचिव सुनील फौगाट ने
उपस्थित कार्यकर्त्ताओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री
भूपेन्द्र हुड्डा का राजनीतिक कैरियर चंद दिनों का रह गया है क्योंकि इस
हलके की जनता अब जान चुकी है कि वे अपना राजनीतिक हित साधने के लिए उसे
अपना परिवार बता कर वोट बटौरते रहते हैं। उन्होंने कहा कि पूर्व सीएम
भूपेन्द्र हुड्डा सीबीआई के डर से जल्द ही नई पार्टी बनाएंगे और वे भाजपा
की कठपुतली होंगे। भाजपा उन्हें जैसा कहेगी, वे वैसा ही करेंगे।
भूपेन्द्र सिंह हुड्डा व सांसद दीपेन्द्र सिंह हुड्डा का जनाधार खत्म हो
चुका है यह तय है कि भाजपा व कांग्रेस पार्टी से जनता ऊब चुकी है। अब इनैलो
का भविष्य उज्ज्वल है और आगामी चुनावों में इनैलो सत्ता में जरूर आएगी और
सरकार बनाने में युवाओं की भूमिका अहम होगी। प्रदेश युवा सचिव ने उपस्थित
कार्यकर्त्ताओं को पार्टी की जनहितैषी नीतियों व कांग्रेस व भाजपा की जन
विरोधी नीतियों से अवगत कराया, साथ ही उन्होंने पार्टी से अधिक से अधिक
संख्या में युवाओं को जोडऩे का भी आह्वान किया। इस बैठक में युवा इनैलो
के प्रदेश उपाध्यक्ष राजन बोहत, रोहित सांगवान व रविन्द्र आंतिल सहित
अन्य वरिष्ठ इनैलो नेताओं ने कार्यकर्त्ताओं को सम्बोधित किया।
सुनील फौगाट ने कहा कि जिस तरह से रोहतक में युवती के साथ गैंगरेप के बाद
हत्या की गई है और दूसरे दिन गुडग़ांव में चलती कार में एक युवती से
गैंगरेप करने के बाद उसे दिल्ली में फैंक दिया जाता है, उससे साफ है कि
हरियाणा में कानून व्यवस्था बुरी तरह गड़बड़ा चुकी है। भाजपा सरकार में
महिलाएं सुरक्षित नहीं है। सरकार की तीखी आलोचना करते हुए कहा कि आज
सरकार लोगों को बिजली-पानी जैसी मूलभूत सुविधाएं भी उपलब्ध करवाने में
पूरी तरह से नाकाम रही है और निरंतर बिजली कटौती से जहां लोगों को भीषण
गर्मी में भारी परेशानी उठानी पड़ रही है। पीने के पानी की भी दिक्कत हो
गई है और गर्मी में जोहड़ों में पानी न होने की वजह से पशुधन के लिए भी
गम्भीर संकट पैदा हो गया है। उन्होंने कहा कि जब तक गैंगरेप से पीडि़त परिवार को न्याय नहीं मिलता, तब
तक इनैलो प्रदेश में आंदोलनरत रहेगा। उन्होंने आरोप लगाया कि प्रदेश में
पुलिस कानून व्यवस्था कायम करने में खट्टर सरकार नाकाम साबित हुई है और
पुलिस अपनी कमियां छिपाने के लिए आमजन को चैकिंग के नाम पर परेशान करती
है। पुलिस प्रशासन अपराधियों पर लगाम लगाने की बजाए कॉलेज व विवि कैंपस
में छात्रों के वाहनों की जांच पड़ताल करके न केवल दहशत फैला रहा है
बल्कि लूटपाट करने के अभियान में जुटा है।उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री खट्टर एकसाल भी पूरा नहीं कर पाएंगे

क्योंकि उनकी प्रशासनिक अधिकारियों में पकड़ नहीं है और भाजपा के मत्री व
विधायक मुख्यमंत्री से नाराज हैं। इसलिए लोकसभा चुनाव के साथ विधानसभा
चुनाव की बात कह कर बगावत रोकने का प्रयास किया जा रहा है।
युवा इनैलो नेता ने कहा कि पिछले चुनाव के समय भाजपा ने किसानों को उनकी
फसलों के लाभकारी मूल्य देने और स्वामीनाथन आयोग की रिपोर्ट अनुसार
किसानों को उनकी लागत के साथ 50 फीसदी मुनाफा देने का वायदा किया था।
उन्होंने कहा कि भाजपा ने कर्मचारियों को पंजाब के समान वेतनमान व भत्ते
देने, बुजुर्गों को 2000 रुपए महीना पैंशन देने, बेरोजगार युवकों को 6
हजार व 9 हजार रुपए प्रति माह बेरोजगारी भत्ता देने, तदर्थ कर्मचारियों व
गेस्ट टीचरों को पक्का करने और लोगों को सभी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध
करवाने के साथ-साथ कानून व्यवस्था की स्थिति में सुधार करने और लोगों की
जानमाल की रक्षा करने का वायदा किया था लेकिन भाजपा ने अपना कोई भी
चुनावी वायदा पूरा करने की बजाए वायदों के पूरी तरह विपरीत काम किया और
किसानों को उनकी फसलों के लाभकारी मूल्य देने और स्वामीनाथन की रिपोर्ट
लागू करने की बजाए आज किसानों को सरसों, बाजरा व चावल की फसलों का
न्यूनतम समर्थन मूल्य भी नहीं दिया गया।

 

Leave a Comment