मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा से वो जमाना लद गया है, जब एन.ओ.सी. लेने के लिए व्यापारियो को चण्ड़ीगढ बुलाकर कमरे में घुसड़-फुसड़ की जाती थी

_KPG0264करनाल (ब्यूरो ); मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि हरियाणा से वो जमाना लद गया है, जब एन.ओ.सी. लेने के लिए व्यापारियो को चण्ड़ीगढ बुलाकर कमरे में घुसड़-फुसड़ की जाती थी, अब प्रदेश मेे एन.ओ.सी. के नाम पर कोई दिक्कत नही है बल्कि कोई व्यापारी जिला स्तर पर ही ऑनलाईन एन.ओ.सी. लेकर अपना संस्थान चला सकता है। करनाल में लिबर्टी के संचालक के साथ जो उस समय की सरकार के नेताओ ने किया, वह किसी से छिपा नही है, हमारी सरकार प्रदेश की समृद्धि के लिए पिछली सरकारो की तरह नहीं करती, बल्कि उद्यमियों को आगे लाने के लिए सहयोग करती है, उन्होने उद्यमियों से कहा कि आप एक कदम आगे बढ़ो, हरियाणा सरकार आपके सहयोग के लिए दो कदम आगे मिलेगी। मुख्यमंत्री मनोहर लाल वीरवार को नूर महल में आयोजित उद्यमियों के समस्याओं के समाधान के लिए आयोजित कार्यक्रम में पहुंचे। वहां उन्होने उद्यमियों की समस्याएं सुनी और समस्याएं जानकारी अधीकतर का मौके पर हल किया। मुख्यमंत्री की ऐसी पहल पर करनाल-कुरूक्षेत्र जिले के सैकण्ड़ो उद्यमियों  ने सरकार की इस पहल की सराहना की और मुख्यमंत्री ने खुले मन से कहा कि हम प्रदेश में व्यापारियों का उन्नत करने के लिए आए हैं, जब प्रदेश का व्यापारी उन्नत होगा, तो प्रदेश समृद्धशाली होगा। उन्होने कहा कि व्यापारियों के सामाजिक सम्मान और प्रतिष्ठा के लिए भी हरियाणा सरकार ने वो किया जो पिछली सरकारों ने कभी सोचा भी नहीं था। व्यापारियों को सम्मान हमारी सरकार की प्राथमिकता है। व्यापारियों को छोटे से छोटे उद्योग से लेकर बड़े से बड़े उद्योग लगाने के लिए सुरक्षित एवं अनुकूल माहोल दिया जा रहा है।मुख्यमंत्री ने कहा कि व्यापारियों का फरवरी में हुए आरक्षण-अंदोलन के कारण जो नुकसान हुआ, यह एक राजनीतिक साजिश थी। इसके बावजूद भी हरियाणा सरकार ने व्यापारियेां को उनके नुकसान की भरपाई को पूरा करने की कोशिश की है। इसके लिए व्यापारियों को नुकसान के रूप में करीब 102 करोड़ रूपये मुआवजा भी दिया है। उन्होने व्यापारियों से संवाद करते हुए कहा कि पहले की सरकारो में व्यापारियों से उनकी दिक्कतो व जरूरतो के बारे में जाना जाता था, परन्तु आज व्यापारियो  व उद्यमियों का हरियाणा सरकार द्वारा सम्मान किया जाता है। अब हरियाणा में करनाल की लिबर्टी शूज फैक्ट्री के मालिक के साथ जो हुआ था, वह किसी से छिपा नही है, वह सबके सामने है। बल्कि इस कार्यक्रम में भी लिबर्टी शूज के मालिक बैठे हैं, वह आज की व्यापारी हितेशी हरियाणा सरकार व करीब 15 साल पहले लिबर्टी शूज फैक्ट्री कुटेल के सामने जी.टी. रोड़ साईड में लिबर्टी का रास्ता बंद करने के लिए खोदे गए बड़े-बड़े गढ्ढे वाली हरियाणा सरकार। यह सब व्यापारियों को अपने जहन में सोचकर आगे बढऩा होगा।
  इस मौके पर उद्योग मंत्री हरियाणा विपुल गोयल, खाद्य, नागरिक आपूर्ति एंव उपभोक्ता मामले मंत्री कर्णदेव कम्बोज, नीलोखेड़ी के विधायक भगवानदास कबीरपंथी, असंध के विधायक बख्शीश सिंह विर्क, लाडवा के विधायक डॉ. पवन सैनी, मुख्यमंत्री के मुख्य ओ.एस.डी. नीरज दफ्तवार, ओ.एस.डी. अमरेन्द्र सिंह, स्वच्छ भारत मिशन हरियाणा के कार्यकारी उपाध्यक्ष सुभाष चन्द्र, ए.सी.एस. देवेन्द्र सिंह, भाजपा के जिलाध्यक्ष जगमोहन आनन्द, मेयर रेनू बाला गुप्ता, कुरूक्षेत्र भाजपा के जिलाध्यक्ष धर्मवीर मिर्जापुर, भाजपा महामंत्री योगेन्द्र राणा तथा अशोक सुखीजा सहित गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे। इस कार्यक्रम में उद्यमियों की तरफ से करनाल के उद्यमी पंकज भारती ने मुख्यमंत्री का उद्यमियों के लिए किए गए सराहनीय प्रयासों के लिए आभार प्रकट किया

Leave a Comment