मलेरिया, डेंगू एवं अन्य वेक्टर जनित रोगों के बचाव एवं नियंत्रण की तैयारियों उपायुक्त

DSC_0101

 

सोनीपत, (अमित त्यागी );मलेरिया, डेंगू एवं अन्य वेक्टर जनित रोगों के बचाव एवं नियंत्रण की तैयारियों को लेकर  लघु सचिवालय प्रथम तल पर स्थित कांफ्रेंस हॉल में जिला स्तरीय मलेरिया वर्किंग कमेटी की उपायुक्त विनय सिंह की अध्यक्षता में बैठक आयोजित की गई।

    इस बैठक में उपायुक्त ने संबंधित विभाग के अधिकारियों एवं प्रतिनिधियों से कहा कि वे समय रहते मलेरिया, डेंगू व अन्य वेक्टर जनित रोगों से बचाव एवं नियंत्रण की कार्य योजना तैयार कर उसे अमल में लाना सुनिश्चित करें। उन्होंने गढ्ढे भरना, साफ-सफाई, लिकेज पानी पाईप लाइन को ठीक करवाना व उचित रख-रखाव जून माह में एंटी मलेरिया व जुलाई माह एंटी डेंगू के बारे में जन जागरण अभियान चलाना, स्कूली बच्चों के माध्यम से प्रभात फेरी निकालना व डिबेट एवं अन्य गतिविधियां  करवाना, फोगिंग मशीन से स्प्रे करवाना तथा लोगों को सावधानियां बरतने बारे आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। उन्होंने अधिकारियों से आपसी तालमेल व कत्र्तव्य निष्ठा की भावना कार्य करने की आवश्यकता पर भी बल दिया। उन्होंने संबंधित एसडीएम को निर्देश दिए कि वे अपने-अपने उपमण्डल में मलेरिया व अन्य वेक्टर जनित रोगों से बचाव के लिए पंचायती राज संस्थाओं के प्रतिनिधियों व अन्य गणमान्य व्यक्तियों की बैठक लेकर जन-जागरण अभियान के माध्यम से लोगों को प्रेरित करने का काम करें।
इस बैठक में सिविल सर्जन डॉ० जेएस पूनिया ने मलेरिया वर्किंग कमेटी की गतिविधियों की जानकारी देते हुए बताया कि पिछले वर्ष मलेरिया के मात्र 13 केस एवं डेंगू के 54 केस पाए गए थे। विशेष बात ये रही कि इन केसों में किसी की भी मौत नहीं हुई। इस प्रकार स्थिति नियंत्रण में रही। इस बार भी मलेरिया, डेंगू, चिकनगुनिया व जापनी बुखार से बचाव हेतू आवश्यक कदम उठाए जा रहे हैं। संबंधित प्वांइट व एरिया में डॉ० व अन्य स्वास्थ्य स्टॉफ की ड्यूटी लगा दी गई हैं। उन्होंने बताया कि विभाग की तरफ से प्रत्येक रविवार को सूखा दिवस मनाने-डेंगू भगाने बारे लोगों को जागरूक भी किया जाएगा। उन्होंने कहा कि मलेरिया व अन्य वेक्टर जनित रोगों के बचाव हेतू सभी विभागों का सहयोग अत्यंत अनिवार्य है। अन्य विभागों के सहयोग से स्वास्थ्य विभाग उक्त बिमारियों से बचाव हेतू सरलता से नियंत्रण कर सकता है। इस मौके पर प्रोजेक्टर के माध्यम से भी मलेरिया व अन्य वेक्टर जनित रोगों के कारण, बचाव हेतू जानकारी दी गई। ताकि मच्छर पैदा ही न होने पाएं और पैदा होने पर लारवा को ही समाप्त किया जा सके।
इस मौके पर उपमण्डल अधिकारी(ना०) सोनीपत प्रशांत पंवार, उपमण्डल अधिकारी(ना०) गोहाना आशीष कुमार, उपमण्डल अधिकारी(ना०) खरखौदा विजय सिंह, सिविल सर्जन डॉ० जेएस पूनिया, जिला मलेरिया अधिकारी एवं डिप्टी सिविल सर्जन डॉ० दिनेश छिल्लर व डॉ० आदर्श शर्मा, एसएमओ बढखालसा डॉ० अनविता कौशिक, एसएमओ मुण्डलाना डॉ० रचना गुप्ता, पीएमओ डॉ० सीपी अरोड़ा, डीआईपीआरओ सुरेन्द्र कुमार वर्मा, नगरनिगम के विनोद मेहरा, बीडीपीओज, स्वास्थ्य तकनीकी शाखा से मनीष दहिया, हेल्थ इस्पेक्टर बलबीर सिंह, एमसी खरखौदा के सचिव राजेन्द्र प्रसाद व अन्य विभागों के अधिकारी एवं प्रतिनिधि मौजूद रहे।

 

Leave a Comment