वैश्य महाविद्यालय में हुआ जीएसटी विषय पर सेमीनार का आयोजन

भिवानी, 21 अगस्त : स्थानीय वैश्य महाविद्यालय के सेमीनार हॉल में डिपार्टमेंट आफ मैनेजमेंट एंड कम्प्यूटर साइंस विभाग द्वारा जीएसटी विषय पर सेमीनार का आयोजन किया गया। जिसमें बीबीए, बीसीए, बीकॉम, एमकॉम, एमएससी मैथ, एमएससी कम्प्यूटर साइंस, पीजीडीसीए के विद्यार्थियों ने भाग लिया। इस अवसर पर इंडियन इंस्टीच्यूट ऑफ टैक्सेशन एंड अकाउंट संस्थान के डॉयरेक्टर रजनीश तिवारी, सुनील सुहाग व चार्टेड अकाउंटेंट चिराग चावला मुख्य वक्ता थे। उन्होंने इस मौके पर संयुक्त रूप से विद्यार्थियों की जीएसटी विषय से सम्बंधित जिज्ञासाओं की विस्तार से जानकारी देकर उनका निदान किया। सेमीनार में रजनीश तिवारी व सुनील सुहाग ने संयुक्त रूप से बताया कि जीएसटी गुडस एवं सर्विस टेक्स व सेप के आने से व्यापार को नई गति मिली है, जिससे व्यापारियों को भी काफी लाभ हो रहा है। इसके साथ साथ रोजगार के भी नए अवसर खुले हैं, इसलिए विद्यार्थियों को चाहिए कि वे व्यावसिक कोर्स के जरिए इन अवसरों का लाभ उठाएं। इसके अतिरिक्त विद्यार्थियों को प्रैक्टिकल नॉलेज भी जरूरी है। उन्होंने कहा कि प्रतिस्पर्धा के इस युग में विद्यार्थियों को उचित मार्ग दर्शन एवं तकनीकी ज्ञान होना जरूरी है। वो ज्ञान विद्यार्थी प्रैक्टिकल वकर््स कर हासिल कर सकते हैं। कामर्स के विद्यार्थियों को चाहिए कि वो प्रैक्टिकल ज्ञान के द्वारा अपने बेहतर भविष्य की नींव रख सकते हैं। चार्टेड अकाउंटेंट चिराग चावला ने बताया कि विद्यार्थियों को अपने टैलेंट के बल पर दूरदर्शिता सोच रखते हुए आगे बढऩा चाहिए और लक्ष्य को निर्धारित कर व्यक्तित्व निखारना चाहिए। उन्होंने कहा कि केवल किताबी ज्ञान जरूरी नहीं हैं, बल्कि प्रैक्टिकल तौर पर भी विद्यार्थियों को तकनीकी ज्ञान से रूबरू होना चाहिए, ताकि उनके सपने पूरे हो सकें। इस अवसर पर कार्यवाहक प्राचार्या श्रीमती सुधा चौहान व डिपार्टमेंट आफ मैनेजमेंट एंड कम्प्यूटर साइंस विभाग की डॉयरेक्टर डॉ0 प्रोमिला सुहाग ने सेमीनार में आए हुए अतिथियों का धन्यवाद करते हुए अपने सम्बोधन में कहा कि जीएसटी के आने से विद्यार्थी वर्ग को रोजगार के अनेकों अवसर मिल रहे हैं। विद्यार्थियों को शिक्षा के साथ साथ रोजगार की संभावनाओं को तलाशने की आवश्यकता है। अच्छे केरियर के लिए उन्हें अच्छे संस्थान का चयन बहुत जरूरी है, ताकि वे प्राइवेट सेक्टर में बढ़ रही संभावनाओं को खोज कर एकाग्रता के साथ आगे बढ़ सके। इस अवसर पर विभाग के सभी स्टाफ सदस्य मौजूद रहे।
Attachments area

Leave a Comment