जिंदा जले पति के साए के साथ सर से उठी छत : गायत्री

कुटानी रोड काबुली बाग स्थित पुनीत हैंडलूम में बीती रात करीबन 2:30 बजे शॉर्ट सर्किट की वजह से आग लग गई जिस समय आग लगी फैक्ट्री में रहने वाले एक ही परिवार के चार सदस्य रणबीर  उसकी पत्नी गायत्री 12 वर्षीय बेटी व 11 वर्षीय बेटा फैक्ट्री में ही मौजूद थे गायत्री बच्चों के साथ नीचे सो रही थी व रणबीर फैक्ट्री की पहली मंजिल पर सो रहा था देखते ही देखते आग ने भयानक रूप अपना सारी फैक्ट्री को अपने आगोश में ले लिया गायत्री किसी तरह बच्चों को ले फैक्ट्री से बाहर आ गई लेकिन जब तलक रणबीर अपना बचाव करता आग ने उसे पूरी तरह से अपनी चपेट में ले लिया और बुरी तरह जलने के कारण मौके पर ही उसकी मौत हो गईबताया जा रहा है कि कुछ दिन पहले भी फैक्ट्री में शार्ट सर्किट हुआ था जिसकी जानकारी मृतक  रणबीर  ने फैक्ट्री मालिक को दे रिपेयर करवाने की बात कही थी लेकिन फैक्ट्री मालिक ने उसकी बात अनसुनी कर लापरवाही बरती जिसके चलते आज इतना बड़ा हादसा हो गया और रणबीर को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा रणबीर की पत्नी गायत्री का कहना है कि वह लोग 20 साल से पुनीत हैंडलूम काम कर रहे थे और इस दौरान फैक्टरी के अंदर ही उनकी रिहाइश थी और फैक्ट्री मालिक पुनीत ने उन्हें आश्वासन दिया  था कि वह उन्हें 50 गज का मकान बनाकर के रहने के लिए देगा लेकिन आज तलक उन्हें 1 गज जमीन तक नहीं दी और जब से यह हादसा हुआ है पुनीत ने सामने आकर के कोई भी बयानबाजी नहीं की जबकि गायत्री का कहना है कि पुनीत ने मैसेज भेजा है कि आप अपने रहने का जुगाड़ कहीं और कर लो अब गायत्री का कहना यह है कि मैंने वह मेरे पति ने पूरी जिंदगी इसकी फैक्ट्री में काम करते हुए गुजार दी तो अब  बच्चों को लेकर  कहां जाऊं वहीं दूसरी और DSP राजेश लौहान का कहना है की जांच के दौरान अगर कोई दोषी पाया गया तो उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *