फसल प्रबंधन की जागरूकता को लेकर जिला के सभी गावों को कवर किया जा रहा है

फसल प्रबंधन की जागरूकता को लेकर जिला के सभी गावों को कवर किया जा रहा है। इसके लिए क्लस्टर बनाये गए हैं। कृषि विज्ञान केंद्र में भी हिसार विश्वविद्यालय की ओर से 28 अगस्त से कार्यशाला आयोजित की जा रही है। यह बात कृषि एवं कल्याण विभाग के उपनिदेशक डॉ पवन शर्मा ने बीती रात गाँव पट्टी कलियाना में कृषि व सूचना,जनसम्पर्क एवं भाषा विभाग की ओर से फसल अवशेष प्रबंधन पर आयोजित कार्यक्रम में उपस्थित किसानों को संबोधित करते हुए कही।
         कृषि विभाग के उपनिदेशक डॉ पवन शर्मा ने कहा कि  खेतों में फसलों के अवशेषों को आग लगाकर किसान न केवल अपनी जमीन को बंजर करने की दिशा में आगे बढ़ रहे हैं बल्कि इससे पर्यावरण भी गंभीर रूप से प्रदूषित हो रहा है। किसान कृषि विभाग तथा प्रदेश सरकार की योजनाओं की मदद से अपनी फसलों के अवशेषों का बेहतर प्रबंधन कर सकते हैं जिससे उनकी भूमि की सेहत भी खराब होने से बची रहेगी और प्रदूषण भी नहीं फैलेगा।
उन्होंने कहा कि हम सबको इस विषय पर गंभीर रूप से सोचना होगा। भविष्य में सभी को इसके सकारात्मक परिणाम देखने को मिलेंगे। इसको लेकर एनजीटी और सरकार भी बहुत गंभीर है। सरकार द्वारा फसल अवशेष प्रबंधन को प्रोत्साहित करने के लिए कस्टम हायर सेन्टर स्थापित किए जा रहे हैं। इन पर सरकार अनुदान भी दे रही है।
जिला सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी( डीआईपीआरो) देवेंद्र शर्मा ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा सीएचसी पर 80 प्रतिशत और व्यक्तिगत तौर पर 50 प्रतिशत अनुदान राशि फसल अवशेष प्रबन्धन से जुड़े कृषि यंत्रों पर उपलब्ध करवा रही है। उन्होंने सभी किसानों को बताया कि ये कार्यक्रम कृषि और सूचना एवम जनसम्पर्क विभाग की ओर से चलाए गए हैं ताकि हमारे किसान ज्यादा से ज्यादा जागरूक हो सकें।
       एआईपीआरओ दीपक पाराशर ने कहा कि सरकार ने फसल अवशेष प्रबंधन पर अच्छा कार्य करने वाले किसानों को जिला स्तर पर सम्मानित करने के निर्देश भी दिए हैं। ऐसे किसानों की लिस्ट तैयार कर कृषि विभाग की ओर से जिला प्रशासन को सौंपी जाएगी।
 कृषि विभाग के एडीओ अमरजीत ने भी उपस्थित किसानों को बूकलेट वितरित करवाई ओर कहा कि इसमें किसानों की जागरूकता के लिए फसल अवशेष प्रबंधन पर विस्तृत ब्यौरा उपलब्ध करवाया गया है। इसका पूरा लाभ उठाएं। कार्यक्रम में सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग के कलाकारों ने गीतों के माध्यम से सरकार की करीब 100 से भी ज्यादा योजनाओं का बखान किया। कृषि विभाग के उपनिदेशक डॉ पवन शर्मा ने उपस्थित ग्रामीणों को फसल अवशेष न जलाने और इसका उचित प्रबन्धन करने की शपथ भी दिलवाई। कार्यक्रम में लोगों को सूचना एवम जनसम्पर्क विभाग की ओर से उक्त विषय पर लघु फिल्मे  भी दिखाई गई व मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल का संदेश भी प्रेषित किया गया।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *