बस

अोवरटाइम बंद करने से बीच रास्ते वापस लौटी चंडीगढ़- दिल्ली रूट की 16 बसें

रोडवज मुख्यालय की तरफ से हरियाणा रोडवेज के कंडक्टरों और ड्राइवरों को अोवरटाइम नहीं देने का फरमान


हिसार रोडवज मुख्यालय की तरफ से हरियाणा रोडवेज के कंडक्टरों और ड्राइवरों को अोवरटाइम नहीं देने का फरमान सुनाया गया, जिसका खामिअाजा अब  प्रदेश की जनता को भुगतना पड़ रहा है। सोमवार को इसी फरमान के चलते चंडीगढ़ रूट की हांसी डिपो की 6 और हिसार डिपो की 5 बसे कैथल से वापस लौट अाई। जबकि इन्हें सवारियों को लेकर चंडीगढ़ तक जाना था।  वहीं हिसार डिपो की दिल्ली रूट की पांच बसें रोहतक- बहादुरगढ से ही वापस ले अाए। इस प्रकार गतदिवस हांसी और  हिसार डिपो की कुल 16 बसें बीच रास्ते सा वापस लौट अाई।


इस कारण सवारियों को बेहद परेशानी का सामना करना पड़ा। बता दें हांसी डिपो से हर रोज 6 बसें चंडीगढ़ जाती हैं, लेकिन गतदिवस सभी बसें कैथल से ही वापस लौट अाई। क्योकि चंडीगढ़ जाने में कई घंटे अतीरिक्त लगते हैं। इस कारण कई अन्य रूट भी प्रभावित रहें।

मुख्याल ने कंडक्टर- ड्राइवरों को अोवरटाइम नहीं देने का अादेश जारी किया है। कर्मचारियों से सिर्फ 8 घंटे ही ड्यूटी करने के लिए कहा गया है. मगर स्टाफ प्रयाप्त मात्रा में नहीं है जिलके चलते परेशानी अधिक  हो रही है और ड्राइवर बीच रास्तों से ही बसों को वापल ले अाते हैं। हालाकि अधिकारियों ने दावा किया है कि सुबह रूट पर बसें लेकर निकले ड्राइवरों ने ही एेसा किया है, जबकि बाद के स्टाफ को समझाया गया था।

सारी रोटेशन बदलेंगे अधिकारी


अब अाठ घंटे के मुताबिक कंडक्टर- ड्राइवरों से ड्यूटी करनावे के लिए रोडवेज के अधिकारी मंगलवार को सारी रेडटेशन बदलेंगे। रूटों पर बसों की इस तरह की व्यवस्था की जाएगी कि किसी भी कंड्कटर- ड्राइवर को अाठ घंटे से अधिक काम न करने पड़े और बसों का रूट भी पूरा हो सके।


Leave a Comment