आरोपी

मासूमों के साथ पहले अपहरण व दुष्कर्म और हत्या की 8 से ज्यादा वारदातों को अंजाम देने वाला हैवान पुलिस के हत्थे

पुलिस गिरफ्त आया यह आरोपी खतरनाक हैवान है


आरोपी मंदिर के बाहर से भंडारों से मासूमों को टारगेट कर अपहरण करता और दुष्कर्म के बाद बेरहमी से हत्या कर देता था। गुरुग्राम पुलिस की एसआईटी टीम ने आरोपी को मध्य प्रदेश के झांसी से गिरफ्तार किया है। बता दें कि बीते 11 नवंबर को एक मासूम के अपहरण दुष्कर्म और बेरहमी से हत्या कर आरोपी फरार हो गया था। पुलिस ने 20 वर्षीय आरोपी सुनील को गिरफ्तार करके सनसनीखेज खुलासे किए हैं।


पुलिस गिरफ्त आया यह आरोपी खतरनाक हैवान है, जो एक या दो नहीं बल्कि 8 के तकरीबन मासूम बच्चियों के अपहरण के बाद दुष्कर्म और फिर उनकी बेरहमी से हत्या की वारदात को अंजाम दिया है।गुरुग्राम पुलिस के एसआईटी हेड और डीसीपी सुमित कुमार ने इन मामलों का पटाक्षेप किया है। दरअसल बीती 11 नवम्बर को 3 साल की मासूम का सेक्टर 66 इलाके से अपहरण कर सेक्टर 66 के सुनसान इलाके के कमरे में ले जाकर न केवल पहले दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया, वहीं दुष्कर्म के बाद मासूम के साथ हैवानों तरह जुल्म को अंजाम देता रहा। उसके बाद मासूम की पटक पटक कर हत्या कर दी और मौके से फरार हो गया था।


 

इस मामले में गिरफ्तार दरिंदे ने अभी तक गुरुग्राम की 2 अन्य वारदातें जिसमें सोहना रोड के ओमेक्स मॉल के पीछे रेप के बाद की गई हत्या का मामला, राजीव चौक पर 8 वर्षीय मासूम बच्ची के शव की जांच के बाद रेप के बाद हत्या का मामला कबूला है। डीसीपी के मुताबिक, आरोपी ने दिल्ली में 3 और ग्वालियर और झांसी में भी एक-एक ऐसी नृशंस रेप के बाद हत्या की वारदातें कुबूल की है। हालांकि अभी पुलिस ऐसे सभी मामलों की गंभीरता से जांच कर रही है।


 

Leave a Comment