हरियाणा के प्रधानों ने कहा घर-घर जाकर बताएंगे कि केजरीवाल ने किया है दिल्ली में चमत्कार

 मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से 50 से ज्यादा प्रधानों ने मुलाकात की


हरियाणा की सियासी अखाड़े में स्कूल-अस्पताल, शहीदों के परिवारवालों को 1 करोड़ रुपये की सम्मान राशि जैसे मुद्दों को लाने की अरविंद केजरीवाल की रणनीति का असर ये है कि अब हरियाणा के विभिन्न हिस्सों से प्रधान, सरपंच, उप-प्रधान, पूर्व प्रधान और गांवों के लोग उन्हें अपना समर्थन देने दिल्ली पहुंचने लगे हैं। इसी क्रम में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आवास पर सोमवार कोसोनीपत जिले के खरखौदा ब्लॉक के 50 से ज्यादा प्रधानों, उप-प्रधानों,सरपंचों, पूर्व प्रधानों और विभिन्न गांवों से आए विशिष्ट जनों ने उनसे मुलाकात की। हरियाणा के विभिन्न इलाकों के प्रधानों, उप-प्रधानों, सरपंचों, पूर्व प्रधानों और विभिन्न गांवों से आने विशिष्ट जनों की इस तरह से केजरीवाल से मुलाकात का यह सिलसिला अब चलता रहेगा।


 

इन सबने केजरीवाल को अपना समर्थन देते हुए अपने-अपने गांवों में आने का उन्हें निमंत्रण भी दिया। शहीद नरेंद्र सिंह के परिवार को केजरीवाल की तरफ से 1करोड़ रुपये दिये जाने की सभी ने सराहना की। इस शिष्ट मंडल ने एक स्वर में कहा कि वे लोग अपने-अपने क्षेत्र में घर-घर जाकर बताएंगे कि किस तरह ने केजरीवाल ने दिल्ली में चमत्कार किया है। साथ ही, सभी प्रधानों के बीच इस बात पर भी सहमति बनी कि हरियाणा के सभी प्रधानों, उप-प्रधानों, सरपंचों, पूर्व प्रधानों की बैठक बुलाई जाएगी, जिसमें केजरीवाल को आमंत्रित किया जाएगा।

 


शहीद नरेंद्र सिंह के परिवार को सम्नान राशि के रूप में 1 करोड़ रुपये देना मेरा फर्ज


इन सबको संबोधित करते हुए अरविंद केजरीवाल ने कहा, शहीद नरेंद्र सिंह के परिवार को सम्नान राशि के रूप में 1 करोड़ रुपये देना मेरा फर्ज था। इसमें मेरी सराहना जैसी कोई बात नहीं है। इसकी सराहना करके मुझे आप लोग शर्मिंदा ना करें। मैं तो बस इतना ही चाहता हूं कि शहीदों के नाम पर इस देश में राजनीति नहीं होनी चाहिए।

 


केजरीवाल ने कहा कि राजनीति में आने से पहले हम सोचते थे कि कभी  सरकारमें हमारी चली तो हम शहीदों के परिवारों को सम्मान राशि के रूप में 1 करोड़ रुपये देंगे। हमने ऐसा किया। अब मैं सोचता हूं कि निकट भविष्य में मेरा बस चला तो हम शहीदों के परिवारों सम्मान राशि के रूप में 5 करोड़ रुपये देंगे।


 साढ़े तीन साल पहले दिल्ली के लोगों ने कमाल करके दिखाया


केजरीवाल ने कहा, साढ़े तीन साल पहले दिल्ली के लोगों ने कमाल करके दिखाया। अब हरियाणे के लोगों को कमाल करके दिखाना है। दिल्ली में जब हमने सरकार बनाई थी तो मन में आता था कि जो कहा है, वो कर पाएंगे कि नहीं। लेकिन साढ़े तीन साल में हमने करके दुनिया को दिखा दिया। इससे एक बात तो साफ है कि हो तो सकता है। अगर हम तीन साल में दिल्ली के स्कूल- अस्पताल ठीक कर सकते हैं, तो बाकी लोग क्यों नहीं कर सकते। इस देश में अब तक राज करने वाली सभी पार्टियों ने 70 साल में कुछ क्यों नहीं किया। इसका मतलब ये है कि इन पार्टियों की नीयत नहीं है।

 


सभी प्रधानों, उप-प्रधानों, सरपंचों, पूर्व प्रधानों और अन्य विशिष्ट लोगों को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा,आप लोग भले ही खरखोदा ब्लॉक से हो लेकिन आप लोगों की चलती पूरे हरियाणे में है। आप सबको मिलकर हरियाणे में अगली सरकार  आम आदमी पार्टी की बनानी है। दिल्ली में तो हमें काम करने नहीं दिया जाता,तब भी इतना करके दिखा दिया। हरियाणा तो पूर्ण राज्य है, वहां ऐसा काम करके दिखाएंगे कि पूरे देश में हरियाणा गवर्नेंस के एक मॉडल के रूप में पहचाना जाने लगेगा।


 

Leave a Comment