बिजली कर्मचारियों

बिजली कर्मचारियों ने सरकार और अधिकारियों के खिलाफ की जमकर नारेबाजी

बिजली कर्मचारियों ने  सरकार  और अधिकारियों के खिलाफ की जमकर नारेबाजी


हरियाणा बिजली वितरण निगम में कार्यरत स्कील्ड एवं अनस्कील्ड कर्मचारियों ने आज सैक्शन की मांग को लेकर कांग्रेसी एवं जनता रॉक्स ट्रस्ट के अध्यक्ष कार्तिक गांधी की अगुवाई में शहर में जोरदार रोष प्रदर्शन किया गया। इस दौरान बिजली कर्मचारी ने सरकार एवं अधिकारियों के खिलाफ जमकर नारेबाजी कर रोष जताया। इसके पश्चात प्रदर्शनकारियों ने अपनी मांगों का ज्ञापन करनाल तहसीलदार को मुख्यमंत्री के नाम सौंपा।

प्रदर्शनकारी बिजली कर्मियों को संबोधित करते हुए कार्तिक गांधी ने मुख्यमंत्री की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए कहा कि जब से भाजपा सरकार सत्ता में आई है और मनोहरलाल खट्टर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने हैं युवाओं एवं कर्मचारियों पर दिन-प्रतिदिन अत्याचार बढ़े हैं। खट्टर राज में बेरोजगारी को बढ़ावा मिला है और आज हरियाणा बेरोजगारी के मामले में नं. वन कहलता है।


30 सितम्बर को कर्मचारियों को बिना किसी नोटिस के काम पर से हटा दिया गया


प्रदर्शन की अध्यक्षता करते हुए करनाल जिला प्रधान अशोक कुमार वैद्य, रमन शर्मा कैथल, राजीव यमुनानगर, हरविंद्र सिंह कुरुक्षेत्र के सभी प्रधानों ने संयुक्त रुप से कहा कि स्कील्ड एवं अनस्कील्ड कर्मचारी बिजली विभाग में पिछले तीन-चार सालों से पूरी मेहनत से काम कर रहे हैं, लेकिन बीती 30 सितम्बर को उन्हें बिना किसी नोटिस के काम पर से हटा दिया गया, जिससे सभी कर्मचारी बेरोजगार हो गए हैं। उन्होंने कहा कि नौकरी से हटाए गए बिजली कर्मचारी पिछले दो महीनों से दर-दर की ठोकरें खाने को मजबूर हैं।

उन्होंने मुख्यमंत्री मनोहरलाल से अपील की है कि उनकी सैक्शन 30 सितम्बर से एक दिन के ब्रेक के बाद लगातार दी जाए ताकि वे सभी नियमित रुप से अपने-अपने कार्य पर जा सकें और अपने परिवार का पालन-पोषण कर सकें। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि यदि उनकी सैक्शन नहीं आई तो प्रदेश में होने वाले चुनावों में जमकर विरोध किया जाएगा। उन्होंने कहा कि जो उनके साथ धोखा व विश्वासघात करेगा वे चुनावों में उसे भारी मतों से हरवाएंगे। इस अवसर पर उनके साथ सुमित, हरविंद्र सिंह, शुभम, कृष्ण सैणी, मुलतान, दिनेश, रवि, नरेश, वीरेन्द्र व सैंकड़ों की तादाद में कर्मचारी उपस्थित रहे।


Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *