नर्सरी

अब 4 साल से अधिक उम्र के बच्चों को नहीं मिलेगा नर्सरी में दाखिला

राजधानी दिल्ली में लगभग 1,600 प्राइवेट स्कूलों में नर्सरी एडमिशन की प्रक्रिया 15 दिसंबर से शुरू हो जाएगी, लेकिन सरकार ने इस साल एडमिशन के लिए अप्पर ऐज लिमिट यानी ऊपरी उम्र सीमा भी लागू करने का फैसला किया है। बता दें कि नर्सरी में अब चार साल से कम उम्र तक के बच्चों को ही दाखिला मिलेगा।


दिल्ली शिक्षा निदेशालय की नई व्यवस्था के अनुसार नर्सरी कक्षा में एडमिशन लेने के लिए ऊपरी उम्र सीमा को 4 साल से कम तय कर दिया गया है। वहीं, के.जी. के लिए 5 साल से कम और पहली कक्षा में एडमिशन के लिए 6 साल से कम आयु को निर्धारित किया गया है।


सरकार द्वारा नर्सरी दाखिले की न्यूनतम उम्र पहले से ही तीन साल, केजी के लिए चार साल और पहली कक्षा के लिए पांच साल तय थी। वहीं इस बार अधिकतम आयु के लिए तय उम्र सीमा में सालभर तक की छूट दी गई थी। अभिभावकों के लिए नर्सरी में एडमिशन से जुड़ी महत्वपूर्ण तारीखें कुछ इस प्रकार हैं :-

  • एप्लीकेशन फॉर्म जमा करने की आखिरी तारीख 7 जनवरी 2019 है।

  • चयनित होने वाले बच्चों की पहली सूची 4 फरवरी 2019 को जारी होगी।

  • चयनित बच्चों की दूसरी सूची 21 फरवरी 2019 को जारी की जाएगी।


सरकार ने यह भी फैसला लिया है कि प्री-स्कूल, प्री-प्राइमरी और पहली कक्षा में 25 फीसदी सीटें आर्थिक रूप से कमजोर/ वंचित समूहों के बच्चों लिए आरक्षित होंगी। साथ ही साथ निदेशालय ने सभी प्राइवेट स्कूलों को अपने स्कूल की वेबसाइट पर 14 दिसंबर तक सभी ओपेन सीटों के लिए क्राइटेरिया डालने का निर्देश दिया है।


इस पूरी प्रक्रिया पर सरकार कड़ी नज़र भी रखेगी ताकि स्कूल प्रशासन अपनी मनमानी ना कर सकें और दिए गए निर्देशों का पालन करें। इसके साथ यह भी देखा जाएगा कि सभी स्कूलों ने एडमिशन क्राइटेरिया और उसके प्लाइंट अपनी वेबसाइट पर अपलोड किए है या नहीं। साथ ही साथ इस बात पर भी नज़र रखी जाएगी कि जो क्राइटेरिया कोर्ट द्वारा खत्म कर दिया गया है, कहीं स्कूलों द्वारा उनके नंबर तो नहीं जोड़े गए।


 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *