8-9 जनवरी राष्ट्रव्यापी हड़ताल की तैयारियों को लेकर बैठक सम्पन्न

झज्जर। पंजाब के समान वेतनमान,  पुरानी पेंशन, एक्सगे्रसिया स्कीम, समान काम समान वेतन, खाली पदों पर स्थाई भर्ती व  पदोन्नतियां, उच्च योगयता प्राप्त लिपिक वर्गीय कर्मचारियों को शिक्षक के पद पर समायोजित करवाने, आदि मांगों को लागू करवाने को लेकर केंद्रीय टे्रड यूनियनों, कर्मचारी संगठनों,  अखिल भारतीय राज्य सरकारी कर्मचारी फैडरेशन के आह्वान पर आगामी 8-9 जनवरी 48 घंटे राष्ट्रव्यापी हड़ताल की तैयारियों को लेकर हरियाणा एजुकेशन मिनिस्ट्रीयल स्टाफ एसोसिएशन हेमसा सम्बंधित सर्व कर्मचारी  संघ हरियाणा की जिला स्तरीय बैठक स्थानीय संघ कार्यालय में जिला प्रधान अतुल डागर की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई।
जिला सचिव  मोहित गुलिया ने बैठक का संचालन करते हुए बताया कि भाजपा सरकार किसान, मजदूर, कर्मचारी विरोधी फैसले ले रही है। चुनावी घोषणापत्र को जुमला बताकर आम जनता के साथ खिलवाड़ किया जा रहा है। सरकारी विभागों को निजीकरण की भटठी में धकेला जा रहा है, 2 लाख बेरोजगारों को प्रतिवर्ष नौकरी देने का वायदा करने वाली खटटर सरकार विभागों को खुलेआम बेच रही है। ट्रेड यूनियन अधिकार को भी बड़ी तेजी के साथ खत्म किया जा रहा है। सरकारी विभागोंं में आऊट सोर्सिंग, ठेका प्रथा, पीपीपी की नीतियां लागू कर पूंजीपतियों को मुनाफा पहुंचाने का कार्य जारी है।
जनता की सेवा के लिए खोले गए शिक्षा, स्वास्थ्य, रोड़वेज, बिजली, पानी जैसे महत्वपूर्ण विभागों को प्राईवेट कम्पनियों के हवाले किया जा रहा है। इन विकट परिस्थितयों में बेरोजगार रोजगार की तलाश में दर दर ठोकरे खाने पर मजबूर हैं।  मोहित गुलिया ने कहा कि अगर समय रहते भाजपा सरकार द्वारा किया गया चुनावी घोषणापत्र लागू नहीं हो जाता है तो कर्मचारी गांव-गांव जाकर सरकार की नीतियों की पोल खोलेंगे।
इस अवसर पर सुधीर मोहन, विनोद अहलावत, अजय दलाल, पवन सिंह,अमित मलिक, प्रदीप गुलिया, संदीप कुमार, प्रविंद्र देशवाल, बिजेंद्र सिंह, प्रकाश चंद्र,नितिन गॉड, संजय कुमार, जितेंद्र कुमार,रमेश कुमार,बलवान आदि मौजूद थे।

Leave a Comment