मंत्रों के माध्यम से ही व्यक्ति को ईश्वर की प्राप्ति होती है

हिंदू धर्म में मंत्रों को बहुत महत्व दिया जाता है, मंत्रों में बहुत शक्ति होती है इसी कारण मंत्रों के माध्यम से ही व्यक्ति को ईश्वर की प्राप्ति होती है। शास्त्रों में अलग – अलग कार्यों के लिए अलग – अलग मंत्र का वर्णन किया गया है। हम आपको यहां एक ऐसे खास मंत्र के बारे में बता रहे हैं जिसका जाप करने से व्यक्ति को धन की प्राप्ति होती है। शास्त्रों के अनुसार इस मंत्र का जाप करने से धन के देवता कुबेर प्रसन्न होते हैं और व्यक्ति के लिए धन के भंडार खोल देते हैं।

जिस व्यक्ति को भगवान कुबेर की कृपा प्राप्त हो जाती है उसे कभी भी धन की कमी का सामना नहीं करना पड़ता है।  इस मंत्र का वर्णन रावण संहिता में भी किया गया है। इस मंत्र का जाप व्यक्ति को शुद्ध होकर पूरी श्रद्धा से करना चाहिए। अगर आपके अंदर छल, कपट, क्रोध जैसे दुगुर्ण हैं तो उनका त्याग कर दें क्योंकि इन अवगुणों के होने से ये मंत्र कारगर सिद्ध नहीं होता है। अतः बालक के समान निश्छल मन लेकर इस मंत्र का जाप करें आपको कुबेर की संपत्ति प्राप्त होगी।

ॐ यक्षाय कुबेराय वैश्रवाणाय, धन धन्याधिपतये।
धन धान्य समृद्धि मे देहि दापय स्वाहा ।।

इस मंत्र का जप करते वक्त धन लक्ष्मी कौड़ी को अपने पास अवश्य रखें, इस मंत्र का नियमित रूप से तीन माह तक जाप करें और तीन माह के जाप के बाद धन लक्ष्मी कौड़ी को अपने तिजोरी मे रख दें, तिजोरी हमेशा पैसों से भरी रहेगी।

Leave a Comment