शाह मालदा जिले में जनसभा के जरिए 2019 लोकसभा चुनाव के लिए बीजेपी का बिगुल फूंकेंगे

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पश्चिम बंगाल के दो दिवसीय दौरे के लिए पहुंच चुके है। शाह मालदा जिले में जनसभा के जरिए 2019 लोकसभा चुनाव के लिए बीजेपी का बिगुल फूंकेंगे। अमित शाह बुधवार को झाड़ग्राम में पार्टी की रैलियों की शुरुआत करेंगे। इसके अलावा वह बंगाल दौरे के दौरान सुरी, जयनगर ओर कृष्णानगर में तीन रैलियों को संबोधित करेंगे।

मालदा की रैली को ममता बनर्जी और महागठबंधन की मोर्चाबंदी के खिलाफ शक्ति प्रदर्शन के रूप में देखा जा रहा है। अमित शाह ने कहा, बंगाल में अभी पांचवां वेतन आयोग लागू है और BJP की सरकार बनी तो लागू होगा सातवां वेतन आयोग। मैं आपको आश्वासन दे रहा हूं, बीजेपी लाएं और हम किसी भी घुसपैठियों को बंगाल में प्रवेश नहीं करने देंगे। लेकिन ये लोग घुसपैठियों से प्यार करते हैं, यही कारण है कि जब हम एनआरसी के बारे में बात करते हैं तो वे हमारे खिलाफ जाते हैं।

अमित शाह ने कहा, बंगाल में बम और हथियार बनाने के उद्योग प्रचलित हैं। जहां रवींद्र संगीत बजाते थे, वहां बम विस्फोट हवा भरते थे। बीजेपी बंगाल में गौरव वापस लाएगी। ऐसा लगता है कि एक नेता का वास्तविक भाषण कैसा लगता है। शाह ने कहा, 2019 का चुनाव भारत के लिए ही नहीं बंगाल के लिए भी महत्वूर्ण है। 2019 का चुनाव तय करेगा कि क्या लोकतंत्र की हत्या करवाने वाली TMC सरकार रहेगी या जाएगी। उन्होंने कहा कि ममता सरकार लोकतंत्र का गला घोंट रही है।

उन्होंने कहा, हमारे कार्यकर्ता लगातार बंगाल में मेहनत कर रहे थे, हमारी यात्रा निकलती तो उनकी सरकार की अंतिम यात्रा निकल जाती, इसलिए परमिशन नहीं दी गई। लेकिन हम अब ज्यादा मेहनत करेंगे। उन्होंने कहा कि ममता सरकार ने बंगाल को कंगाल कर दिया है। बंगाल में हर पांचवा व्यक्ति गरीबी रेखा के नीचे रह रहा है।

शाह ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा, सुभाष बाबू को भुलाने के लिए कांग्रेस ने कोई कसर नहीं छोड़ी लेकिन पीएम मोदी ने सुभाष चंद्र बोस के बंगाल को अमर करने के लिए अंडमान निकोबार के तीन द्वीप का नाम सुभाष रखा है। कांग्रेस ने कभी भी सुभाष बाबू का सम्मान नहीं किया लेकिन नरेंद्र मोदी उनका सम्मान करने अंडमान पहुंचे।

Leave a Comment