नारा देकर वोट लेना और फिर सब कुछ भूल जाना कांग्रेस का चरित्र : भाजपा

नई दिल्ली : कांग्रेस पर किसानों की कर्जमाफी का वादा पूरा करने में विफल रहने और छल करने का आरोप लगाते हुए भाजपा ने बृहस्पतिवार को कहा कि नारा देकर वोट लेना और वोट मिलने पर सब कुछ भूल जाना कांग्रेस पार्टी का चरित्र रहा है और किसानों की कर्जमाफी के मामले में यह एक बार फिर साबित हुआ है । केंद्रीय मंत्री एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता मनोज सिन्हा ने पार्टी मुख्यालय में संवाददाताओं से कहा कि हाल ही में हुए विधानसभा चुनावों में कांग्रेस पार्टी ने किसानों का कर्ज माफ करने का वादा किया था। लेकिन कांग्रेस पार्टी ने किसानों के साथ सिर्फ और सिर्फ छल करने का काम किया है।

मध्यप्रदेश में कई किसानों के 97 रूपये, 313 रूपये जैसी राशि माफ किये जाने की बात सामने आई है। उन्होंने जोर दिया कि अनेकों किसानों जिन्होंने कर्ज नहीं लिया था, उनका नाम कर्जदारों की सूची में सामने आया है। कर्नाटक में किसानों को गिरफ्तार किये जाने और कथित आत्महत्या के मामले भी सामने आए हैं। सिन्हा ने आरोप लगाया कि एक तरफ वाजिब किसानों की कर्जमाफी नहीं हो रही है तो दूसरी ओर ऐसी खबरें आ रही है कि कांग्रेस के अनेक नेताओं के परिवारों के लोगों के कर्जे माफ किये गए हैं। कर्जमाफी में मानकों को स्पष्ट उल्लंघन किया जा रहा है । ऐसे किसानों के कर्जे माफ किये गए हैं जिनके पास 18 एकड़ तक जमीन है। भाजपा नेता ने इस संदर्भ में कुछ किसानों के नाम सहित उदाहरण भी दिये।

कांग्रेस पर किसानों से वादाखिलाफी करने का आरोप लगाते हुए सिन्हा ने कहा, ‘‘ नारा देकर वोट लेना कांग्रेस पार्टी का चरित्र रहा है और वोट मिलने के बाद वो सब भूल जाते हैं, वोट मिल जाने के बाद किसी भी घोषणा पर काम नहीं करती । उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस पार्टी और उसके अध्यक्ष देश की जनता को बेवकूफ बना रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि पहले भी जब कांग्रेस नीत सरकार थी तब कर्जमाफी की गई थी लेकिन वह कर्ज माफी के घोटाले के रूप में सामने आया।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने राजस्थान, छत्तीसगढ़, मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले किसानों की कर्जमाफी का वादा किया था लेकिन जो उदाहरण सामने आए हैं, वह कर्जमाफी के नाम पर किसानों से मजाक है । उन्होंने जोर दिया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में सरकार किसानों की आमदनी दोगुना करने का प्रयास कर रही है और निश्चित तौर पर इससे देश के किसानों को लाभ पहुंचेगा।कांग्रेस से किसानों की कर्जमाफी का वादा पूरा करने की मांग करते हुए उन्होंने कहा कि हम किसानों की सहायता करके उन्हें मजबूत बनाना चाहते हैं ताकि वे राष्ट्र निर्माण में और अधिक योगदान कर सकें।

Leave a Comment