गरीब रथ ट्रेन में लूटपाट के 24 घंटे बाद भी पुलिस को कोई सुराग नहीं मिला

जयपुर से चंडीगढ़ जा रही गरीब रथ ट्रेन में लूटपाट के 24 घंटे बाद भी पुलिस को कोई सुराग नहीं मिला है। हालांकि पुलिस की चार टीमे अलग अलग एंगेल पर जांच पडताल में जुटी है। पुलिस को शक है कि रोहतक रेलवे स्टेशन से ही लूटेरे ट्रेन में सवार हुए थे और उसके बाद वारदात को अंजाम दिया है। पुलिस ने इस मामले में सुराग जुटाने के लिए आसपास गांव में भी मुखबरी लगाई है। इसके अलावा पुलिस यात्रियों द्वारा बताए गए हुलिए के अनुसार भी जांच पडताल में जुटी है।

बताया जा रहा है कि एक या दो युवक का ही चेहरा सामने आया है, जबकि बाकी युवकों ने नकाब पहना हुआ था। गांव मकडौली के पास गरीब रथ ट्रेन में लूटपाट की घटना को 40 घंटे से अधिक समय बीत चुका है, लेकिन पुलिस के हाथ अभी खाली है। मामले के खुलासे के लिए गठित की गई चारो टीमो को अलग अलग आधार पर काम करने को कहा गया है। पुलिस की एक टीम तो युवको की बोली व चेहरे को लेकर काम कर रही है, जबकि दूसरी टीम रोहतक रेलवे स्टेशन से ट्रेन में सवार हुए युवको की पहचान में जुटी है।

इसके अलावा एक टीम ट्रेनो में लूटपाट करने वाले गिरोह की कुंडली खंगाल रही है, जबकि चौथी टीम साइबर सैल के साथ मिलकर काम कर रही है। रेलवे पुलिस का कहना है कि जल्द ही लूटेरो को गिरफ्तार कर लिया जाएगा, लेकिन अभी पुलिस के पास कोई जानकारी नहीं मिली। इसके अलावा रेलवे के आला अधिकारियों ने पुलिस से जबाव तलब किया है कि सुरक्षा में चुक कैसे हुई है। बताया जा रहा है कि करीब आधे घंटे तक ट्रेन में लूटपाट होती रही और कोई मदद करने नहीं आया।

जांच टीम के प्रभारी का कहना है कि पुलिस हर एंगल पर काम कर रही है और कडी से कडी जोकर जल्द ही मामले का पटाक्षेप कर दिया जाएगा। गरीब रथ मे हुई लूटपाट का मामला दिल्ली तक जा पहुंचा है और रेलवे अधिकारियों ने यात्रियों की सुरक्षा को लेकर रेलवे पुलिस फोर्स से जबाव तलबी की है। इसके अलावा रेलवे पुलिस अधीक्षक ने थाना प्रभारी से पूरे मामले की स्टेटस रिपोर्ट ली और इस बारे में उचित दिशा निर्देश दिए।

बुधवार सुबह करीब तीन बजे नकाबपोश कुछ युवको ने अतिरिक्त जिला सत्र न्यायाधीश सहित एक दर्जन से अधिक यात्रियों से लाखो रूपये की नकदी व जेवरात लूट लिए थे। इस मामले में पहले चंडीगढ पुलिस ने जीरो एफआईआर दर्ज की थी और बाद में रोहतक रेलवे पुलिस ने चंडीगढ की जीरो एफआईआर को लेकर अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *