बजट में एक और तोहफा – सालाना 5 लाख तक आय पर नहीं देना होगा टैक्स

नई दिल्ली। लोकसभा चुनावों से पहले आयकर स्लैब में बदलाव की उम्मीद लगाए बैठे नौकरीपेशा लोगों को मोदी सरकार ने तोहफा दिया है। अरुण जेटली की जगह बजट पेश कर रहे वित्त मंत्री पीयूष गोयल के अनुसार, अब पांच लाख रुपये तक सालाना आमदनी वालों को आयकर नहीं देना होगा। पहले यह सीमा 2.50 लाख रुपए थी।
सरकार की इस घोषणा के बाद इससे लोगों को सालाना 12,500 रुपए की बचत होगी। वित्त मंत्री के यह घोषणा करते ही संसद में मोदी मोदी के नारे गूंज उठे। इसके अलावा, पीयूष गोयल ने घोषणा की कि सरकार ने स्टैंडर्ड डिडक्शन को 40 हजार रुपये से बढ़ाकर 50 हजार रुपये कर दिया है। उन्होंने यह भी घोषणा की कि यदि 6.5 लाख रुपये तक की कमाई करने वाले प्रोविडेंट फंड और अन्य इक्विटीज में निवेश करते हैं तो कोई टैक्स नहीं देना होगा।

Leave a Comment