पूर्व केन्द्रीय मंत्री विनोद शर्मा आज अम्बाला में करेंगे भावी रणनीति का खुलासा

पूर्व केन्द्रीय मंत्री विनोद शर्मा किसी भी क्षण नई पारी की शुरूआत की घोषणा कर सकते हैं। उनके जन्म दिवस के उपलक्ष्य में 11 फरवरी 2019 को घंूघट पैलेस अम्बाला में विशाल समारोह का आयोजन किया जा रहा है। जबकि 12 फरवरी 2019 को वे अपने परिजनों के साथ अपना जन्म दिन मनाएंगे।

उनके करीबी सूत्रों के अनुसार इस आयोजन के लिए करीब पांच हजार कट्टर समर्थकों का न्यौता दिया गया है। पिछले दो साल से पूर्व केन्द्रीय मंत्री विनोद शर्मा ने अम्बाला शहर विधानसभा क्षेत्र में राजनैतिक गतिविधियां बढ़ा रखी हैं। रक्षा बन्धन और भैयादूज पर हजारों बहनों से राखी बंधवाने के साथ-साथ तिलक लगवाने का सिलसिला उनकी मॉडल टाऊन स्थित कोठी पर निर्बाध रूप से जारी है। इसके अलावा लोगों के सुख-दुख में शामिल होने का सिलसिला भी उन्होंने लगातार जारी रखा है।

इन आयोजनों में 2019 के चुनाव की रूपरेखा के बारे में पूछने पर हमेशा एक ही जवाब मिलता रहा है कि आगामी वैशाखी तक यह सब तय कर दिया जाएगा। राजनैतिक पंडितों का मानना है कि मिशन 2019 की निकटता के चलते वे अपने जन्म दिवस 12 फरवरी 2019 के मौके पर धमाका कर सकते हैं। उनके बारे में एक बात उनके कट्टर समर्थकों में मशहूर है कि समय से पूर्व वे अपने पत्ते अपनी धर्मपत्नी के समक्ष भी नहीं खोलते। उन्हें बेहद गम्भीर और संवेदनशील राजनेता माना जाता है।

पूर्व प्रधानमंत्री नरसिम्हा राव की सरकार में केन्द्रीय मंत्री रहे विनोद शर्मा ने 2004 में अम्बाला शहर से विधानसभा का चुनाव 32 हजार से अधिक वोटों के अन्तर से जीता था। तत्कालीन मुख्यमंत्री भूपिन्द्र सिंह हुड्डा का दाहिना हाथ माने जाने वाले विनोद शर्मा को तब कांग्रेस सरकार ने बिजली एवं कराधान मंत्री बनाया था लेकिन एक चर्चित हत्याकांड में उनके बेटे मनु वशिष्ठ पर आरोप लगने के बाद उन्होंने मंत्रीपद त्याग दिया था फिर भी वे सीएम के संकट मोचक बने रहे।

Leave a Comment