हैदराबाद लोकसभा सीट पर ओवैसी की बादशाहत को टक्कर दे सकते हैं मोहम्मद अजहरुद्दीन

अगर तेलंगाना प्रदेश कांग्रेस की योजना के हिसाब से चीजें आगे बढ़ती हैं तो हैदराबाद लोकसभा सीट पर एआईएमआईएम प्रमुख असदु्द्दीन ओवैसी के खिलाफ पूर्व क्रिकेटर मोहम्मद अजहरूद्दीन चुनाव मैदान में उतर सकते हैं। पार्टी सूत्रों ने बताया कि भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान इस सीट के लिए प्रदेश कांग्रेस की पहली पसंद हैं। दरअसल, प्रदेश कांग्रेस ने तेलंगाना में सभी 17 लोकसभा सीटों के लिए अपने उम्मीदवारों का चयन कर लिया है। क्रिकेटर से नेता बने 56 साल के अजहरूद्दीन को राज्य में सात दिसंबर 2018 को हुए विधानसभा चुनाव से पहले प्रदेश कांग्रेस का कार्यकारी प्रमुख नियुक्त किया गया था। वह इसी शहर के रहने वाले भी हैं।

शुरूआती खबरों में कहा गया था कि वह मई में होने वाले लोकसभा चुनाव में सिकंदराबाद से लड़ना चाहते हैं । यह सीट अभी भाजपा नेता बंडारू दत्तात्रेय के पास है। लेकिन अब यह संभावना नजर नहीं आती कि अजहरूद्दीन को वहां से लड़ने की मंजूरी मिलेगी।

अभी यह साफ नहीं है कि क्या अजहरूद्दीन हैदराबाद सीट से लड़ना चाहते हैं या नहीं। हैदराबाद की सीट पर अब तक एआईएमआईएम का वर्चस्व रहा है। तीन बार से असदुद्दीन ओवैसी इस सीट का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं।

यह पूछे जाने पर कि क्या अजहरूद्दीन अब भी इस दौड़ में हैं, पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा, ‘‘यदि पार्टी आलाकमान उनसे हैदराबाद से लड़ने को कहती है तो वह ऐसा करेंगे।’’ वहीं, सत्तारूढ़ तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) पहले ही यह स्पष्ट कर चुकी है कि वह हैदराबाद सीट पर ओवैसी का समर्थन करेगी।

2009 के लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश की मुरादाबाद सीट से अजहरूद्दीन जीते थे लेकिन 2014 में वह राजस्थान की टोंक माधोपुर सीट से हार गए थे।

Leave a Comment