भगदड़ मचने के दौरान महिला की मौत के मामले में गिरफ्तार आरोपी को जमानत पर छोड़ा


रोहतक। बजरंग भवन के पास कथित समाजसेवी मोहित धनवंतरी द्वारा गरीब परिवारों को सस्ती दर पर राशन बांटते समय भगदड़ से काठमंडी निवासी बुजुर्ग महिला गुड्डी (60) की मौत के मामले में सिविल लाइन थाना पुलिस ने रविवार रात गिरफ्तार किए मोहित के पिता को जमानत पर छोड़ दिया। इसको लेकर मृतक के परिजनों में आक्रोश है। उधर, मृतक के बेटे ने कहा कि आरोपियों को हर हाल में सजा मिलनी चाहिए।
पुलिस के मुताबिक काठमंडी के शांति नगर निवासी कपिल ने बताया कि उसकी 60 वर्षीय मां गुड्डी बजरंग भवन मंदिर के समीप मोहित धनवंतरी के यहां पर रविवार सुबह तकरीबन नौ बजे राशन लेने आई थीं। यहां पर सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा के आने का भी कार्यक्रम था। इसके चक्कर में भीड़ को लाइन में लगाए रखा और तकरीबन साढ़े तीन बजे जब राशन बंटना शुरू हुआ तो एक-दूसरे से पहले राशन लेने को लेकर भीड़ बेकाबू हो गई। इस दौरान उसकी मां गुड्डी की मौत हो गई, जबकि काठमंडी निवासी महिला मूर्ति देवी भी घायल हो गई थी। सिविल लाइन थाना प्रभारी नरेश कुमार का कहना है कि फरार आरोपियों की तलाश में दबिश दी जा रही है।
उधर, मृतक के बेटे कुलदीप का कहना है कि आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। जांच होनी चाहिए कि मां के तड़पने के बावजूद उसे उपचार क्यों नहीं दिया गया? जबकि अस्पताल पास में ही है। कार्रवाई की मांग को लेकर परिजन एडिशनल एसपी डॉ. अंशु सिंगला से भी मिले। वहीं, पोस्टमार्टम के बाद सोमवार को मृतक गुड्डी का अंतिम संस्कार किया गया। 

Leave a Comment