सभी बैंक उपभोक्ताओं को ज्यादा से ज्यादा सुविधाएं प्रदान करें:प्रीति

अतिरिक्त उपायुक्त प्रीति ने लघु सचिवालय के कांफ्रेंस हॉल में जिला के डीएलआरसी की तिमाही बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा कि जिला के अनेक बैंक ऐसे हैं जिन्होंने अभी तक एक भी व्यक्ति को ऋण नही दिया है।

जब ऋण देने की सभी औपचारिकताएं  विभाग, निगम व संस्थाओं द्वारा पूरी की जाती हैं। बैंक को केवल यह देखना है कि ऋण लेने वाला व्यकित डिफलटर है अथवा नही। उन्होंने कहा कि जब विदेशी निवेश एफडीआई ने इन तीन महिनों में बेहतर प्रदर्शन किया है तो भारतीय बैंकों को भी ओर अधिक प्रदर्शन करना चाहिए ताकि नवयुवकों को रोजगार के और अधिक अवसर उपलब्ध करवाए जा सकें।

.
उन्होंने कहा कि बैंकिंग संस्थाओं को चाहिए कि गरीब और जरूरतमंद लोगों को ज्यादा से ज्यादा रोजगार के लिए ऋण दें। सभी बैंक अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि ऋण दिए जाने वाले व्यक्ति को मिसगाईड ना करें। उन्होंने लीड बैंक प्रबंधक मितलेश झा को कड़े निर्देश दिए कि एक सप्ताह के अन्दर सभी बैंकों की नई प्रगति रिपोर्ट जिला प्रशासन को प्रस्तुत की जाए।

बैठक में निगमायुक्त औमप्रकाश, डीएसपी सतीश वत्स, नाबार्ड बैंक प्रबंधक संजय कुमार, कृषि उपनिदेशक देवेन्द्र देव, यूको बैंक प्रबंधक अक्षय चौधरी, इलाहबाद बैंक प्रबंधक अजय कुमार, वित्तिय सलाहकार सुरेन्द्र सोनी, हरियाणा खादी ग्राम उद्योग के जिला अधिकारी अनिल वशिष्ठ सहित जिला के 44 बैंकों के अधिकारियों ने इस बैठक में भाग लिया।

Leave a Comment