सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद सूरजकुंड क्षेत्र में अवैध कब्जाें पर बड़ी कार्रवाई

फरीदाबाद- सुप्रीम कोर्ट के आदेशों के बाद सूरजकुंड रोड पर बने गांव खोरी में बड़े पैमाने पर निगम अधिकारियों द्वारा तोड़फोड़ की गई । लोगों द्वारा हल्का-फुल्का विरोध तो हुआ लेकिन वह पुलिस बल के आगे सिरे नहीं चढ़ पाया। जो लोग हंगामा कर हैं दरअसल खोरी इलाके के रहने वाले हैं जहां नगर निगम के द्वारा बड़े पैमाने पर इस इलाके में तोड़फोड़ की कार्रवाई को अंजाम दिया गया। दरअसल सरकारी जमीन पर अवैध कब्जे का यह मामला सुप्रीम कोर्ट तक पहुंचा हुआ है जिसे लेकर सुप्रीम कोर्ट ने 16 सितंबर तक जवाब मांगा है । इसी को देखते हुए साेमवार को भारी पुलिस बल के साथ निगम अधिकारी मौके पर जा पहुंचे और तोड़फोड़ की कार्यवाही शुरू कर दी।
नगर निगम की इस कार्रवाई का लोगों ने विरोध करना शुरू किया लेकिन भारी पुलिस बल की मौजूदगी के चलते वह ज्यादा विरोध नहीं कर पाए ।

वहीं इलाके के लोगों की माने तो उन्होंने यह जमीन गांव के ही लोगों से खरीदी है जिसे अवैध बताकर आज तोड़ा जा रहा है। बता दें यहां 13 बार तोड़फोड़ 18 बार एफआईआर फिर भी इतनी बड़ी कॉलोनी बस गई।1999 से कोर्ट में मामला चल रहा है। वहीं फरीदाबाद में खोरी गांव में तोड़फोड़ पर कांग्रेस नेता विजय प्रताप ने भाजपा सरकार व अधिकारियों पर जमकर निशाना साधा। विजय प्रताप ने कहा कि पहले अधिकारी भू माफियाओं के साथ मिली भगत करते हैं और उसके बाद गरीब लोगों के आशियाने उजाड़े जाते हैं। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार भूमाफियाओं को फायदा पहुंचाने का काम रही है। उन्होंने कहा कि पहले सरकार कोई वैकल्पिक व्यवस्था करे, उसके बाद उन्हें हटाए। विजय प्रताप ने कहा कि कांग्रेस ने हमेशा से गरीबों को बसाने का काम किया है परंतु भाजपा सरकार गरीबों को उजाड़ने पर आमदा है।

Leave a Comment