लत मेडिकल ओपिनियन देने के आरोप में तीन चिकित्सक संस्पेंड, एचसीएमएस ने जताई नाराजगी

मेडिकल ऑफिसर के शराब पीने सबंधी मामले में गलत ओपिनियन देने के आरोप में सिविल अस्पताल के 3 डॉक्टर को सस्पेंड कर दिया है। एसीएस ने डायरेक्टर जनरल हेल्थ सर्विसेज को रूल-7 के तहत चार्जशीट ड्राफ्ट तैयार कर भेजने को कहा है। कार्यकारी पीएमओ डॉ. अनीता बंसला का कहना है कि मामला संज्ञान में आया है। आदेश की कॉपी रिसीव नहीं हुई है। सिविल अस्पताल में मेडिकल ऑफिसर डॉ. प्रेम कुमार (कुछ दिन पहले दिवगंत) 4 जनवरी को सेशन कोर्ट में गए थे। वहां जज को उनके शराब पीने का शक हुआ तो उन्होंने स्वास्थ्य विभाग को मेडिकल कराकर रिपोर्ट देने को कहा। सिविल अस्पताल ने सर्जन डॉ. राजीव, मनोचिकित्सक डॉ. पूनम व मेडिकल ऑफिसर डॉ. नीरज का बोर्ड बना दिया। बोर्ड ने डॉ. प्रेम से ब्लड सैंपल देने को कहा तो मना कर दिया।

बोर्ड ने रिपोर्ट में लिखा कि बिना ब्लड सैंपल नहीं बताया जा सकता है कि शराब पी है या नहीं। इस पर आपत्ति मुख्यालय तक पहुंच गई और तीनों डाक्टरों पर कार्रवाई हुई है। बिना जांच डॉक्टरों को सस्पेंड करना गलत है। पहले ही डॉक्टर्स की कमी है। मंगलवार को मीटिंग में आगे की रणनीति तैयार करेंगे। – डॉ. कामिद मोंगा, जिला प्रधान, एचसीएमएस, हिसार

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *