मॉर्निंग वॉक पर निकले दंपति को कैंटर ने कुचला, मौत

हिसार- दिल्ली बाइपास पर आर्मी कैंट के सामने बुधवार के तड़के हुए एक दर्दनाक हादसे में दंपति की मौत हो गई, जबकि दो युवा घायल हो गए। घायलों को उपचार के लिए शहर के एक निजी अस्पताल में दाखिल करवाया गया है। हादसे की सूचना लगने पर पुलिस व हाईवे अथॉरिटी मौके पर पहुंच गई और मामले की छानबीन में जुट गए। सड़क हादसे को लेकर आसपास की कॉलोनियों के लोगों में आक्रोश देखने को मिला। लोगों का आरोप था कि हाईवे की तरफ लगी लाइटें पिछले 3 महीने से बंद पड़ी है और प्रशासन का इस ओर कोई ध्यान नहीं है। शुरुआती जानकारी के अनुसार हनुमान कॉलोनी में रहने वाले सेवानिवृत्त सैनिक व उनकी पत्नी सुबह नेशनल हाईवे पर मॉर्निंग वॉक कर रहे थे। इस दौरान सड़क पर और भी काफी लोग वहां टहल रहे थे। इसी बीच पीछे से एक कैंटर आया। कैंटर पर चालक का कोई नियंत्रण नहीं था और उसने मॉर्निंग वॉक कर रहे पूर्व सैनिक दंपति को कुचल डाला और वहां घूम रहे दो युवाओं को जबरदस्त टक्कर मारी। हादसा इतना भीषण था कि कैंटर चालक पूर्व सैनिक दंपति को काफी दूर तक अपने साथ घसीटता ले गया। पूर्व सैनिक और उसकी पत्नी की मौके पर ही मौत हो गई। इसी बीच राहगीरों ने गंभीर रूप से घायल युवाओं को तुरंत शहर के एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची और शवों को अपने कब्जे में लेकर छानबीन में जुट गई।

बताया जाता है कि कैंटर का टायर फट जाने से चालक का केंटर पर नियंत्रण नहीं रहा और वह सामने आए लोगों को कुचलता चला गया। हादसे के बाद कैंटर चालक कैंटर को मौके पर ही छोड़कर वहां से फरार हो गया। हादसे की सूचना मिलने पर आसपास की कॉलोनियों के लोग मौके पर पहुंच गए। कॉलोनी वासियों ने आरोप लगाया कि हाईवे पर लगी लाइटें पिछले 3 माह से बंद पड़ी है। इन्हें चालू नहीं करवाया जा रहा। बंद पड़ी लाइटें भी हादसे का कारण बनी है। इसके अलावा हाईवे पर मॉर्निंग वॉक करना भी आज के इस भीषण हादसे की बड़ी वजह रही।

Leave a Comment