तीन माह से नहीं मिला होम गार्ड जवानों को वेतन

सोनीपत- कोरोना वायरस के सक्रमंण को फैलने से रोकने के लिए चौक-चौराहों पर पुलिस कर्मचारी, अस्पताल में स्वास्थ्य कर्मी, चिकित्सक व चौक-चौराहों पर पुलिस कर्मचारियों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर डयूटी दे रहे होमगार्ड के जवानों के साथ सौतेला व्यवहार किया जा रहा हैं। लॉकडाउन के दौरान लोगों को नियमों का पाठ पढ़ा रहे होमगार्ड तीन माह से बिना वेतन के गुजारा करने पर मजबूर हैं। मामले को लेकर संबंधित अधिकारी समय पर बिल बनाकर पुलिस अधीक्षक कार्यालय में भेजा चुके हैं। बिल भेजने के बाद भी वेतन जारी नहीं किया जा रहा हैं। बता दें कि जिले में यातायात नियमों की पालन व पुलिस कर्मचारी के सहयोग के लिए होमगार्ड के जवानों की तैनाती कर रखी हैं। जिले में अलग-अलग थानों के अंतगर्त करीब 700 होमगार्ड के जवान तैनात हैं। जो सड़कों पर पुलिस कर्मचारियों की हर काम में मदद कर रहे हैं। मार्च माह से कोरोना सक्रमंण को रोकने के लिए पुलिस कर्मचारियों के साथ चौक-चौराहों पर डयूटी दे रही होमगार्ड के जवानों के साथ सौतेला व्यवहार किया जा रहा हैं। होमगार्ड के जवानों को तीन माह का वेतन जारी नहीं किया गया हैं। जिसके चलते उन्हें घर चलाने में परेशानी हो रही हैं।

घर चलाने में हो रही परेशानी गीता भवन चौक, देवीलाल चौक, पुलिस लाइन के सामने तैनात होमगार्ड के जवानों से वेतन को लेकर बातचीत की गई तो उन्होंने नाम न छापने की शर्त पर बताया कि तीन-तीन माह तक वेतन जारी नहीं किया जा रहा हैं। यातायात को सुचारू रूप से चलाने के लिए उनकी तैनाती की गई हैं। घंटों सड़कों पर डयूटी देने के बाद भी समय पर वेतन नहीं मिल पा रहा। कोविड-19 संक्रमण के दौरान घर में रोटी के लाले पड़ चुके हैं। लोगों की उधारी तीन माह की हो चुकी हैं। जल्द वेतन जारी नहीं किया गया तो भूखे तक रहने की नौबत आ सकती हैं। दो माह का बिल बनाकर भेजा जा चुका है होम गार्ड के जवान अपनी समय पर डयूटी दे रहे हैं। दो माह का बिल बनाकर पुलिस अधीक्षक कार्यालय में भेजा जा चुका हैं। इस माह का भी बिल जल्दी भेजा जाएगा। वेतन जारी होने में पुलिस अधीक्षक कार्यालय की तरफ से देरी हो रही हैं। अधिकारियों से बातचीत कर जल्द वेतन खाते में डलवा दिया जायेगा। बिजेंद्र सिंह, जिला आदेशक, गृह रक्षी विभाग सोनीपत।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *