शक्ति भोग आटा कंपनी पर 146 केस दर्ज, कंपनी के तीन मालिकों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

करनाल- देश की जानी-मानी आटा एवं फूड कंपनी शक्ति भोग फूड लि. के मालिकों पर पुलिस ने करोड़ों रुपए की जालसाजी का मुकदमा दर्ज किया है। इस मामले में कंपनी ने आज तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों को अदालत में पेश कर रिमांड पर लिया जाएगा। आरोप है कि समानाबाहु स्थित शक्ति भोग फूड लि. ने निगदु स्थित अनाज मंडी से आढ़तियों से 57 हजार क्विंटल से ज्यादा का धान खरीदा था। इसकी एवज में कुछ पेमेंट का भुगतान तो कंपनी ने कर दिया लेकिन करीब 9 करोड़ 21 लाख रुपए की रकम की अदायगी नहीं की।

आरोप है कि कंपनी से जब आढ़तियों से पैसे मांगे तो उन्हें धमकी दी गई। इस मामले में गुलशन सचदेवा ने अदालत में आरोपियों के खिलाफ केस दायर करने की याचिका दी। अदालत के निर्देश पर कंपनी के मालिकों पर केस दर्ज कर जांच शुरू की गई। पुलिस अधीक्षक ने मामले की जांच सीआईए को सौंपी। सीआईए वन ने इस मामले में कंपनी के मालिक केवल कृष्ण, सिदार्थ कुमार व दिल्ली निवासी दिव्यार्थ कुमार को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों को अदालत में पेश कर रिमांड पर लिया गया है। बताया जाता है कि आरोपियों के खिलाफ 146 मुकदमें हरियाणा में ही दर्ज है। जिनमे 28 केस करनाल में, 100 केस यमुनानगर तथा पानीपत में 18 केस दर्ज है। इसके अलावा चैक बाऊंस के मामले में ये आरोपी कोर्ट से भगौड़े चल रहे थे। इनमे से एक पर पांच हजार रुपए का ईनाम भी था।

Leave a Comment