बुराड़ी पहुंचेंगे किसान या सिंघु बॉर्डर पर ही जारी रहेगा आंदोलन? बैठक के बाद लेंगे फैसला

दिल्ली -28 नवंबर, 2020 (इंडिया की दहाड़ ब्यूरो) कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का दिल्ली चलो आंदोलन लगातार तेज होता हुआ नजर आ रहा है। दिल्ली कूच करने की मांग पर अड़े किसानों के बुराड़ी के निरंकारी ग्राउंड में प्रदर्शन करने की इजाजत दी गई है लेकिन इसके बाद भी किसान दिल्ली कूच करने पर अड़े हुए हैं। आपको बता दें कि सिंघु बॉर्डर (दिल्ली-हरियाणा) पर पंजाब के किसानों की मीटिंग जारी है। मीटिंग में ये तय किया जा रहा है कि किसान यहीं बॉर्डर से विरोध प्रदर्शन करेंगे या दिल्ली के निरंकारी ग्राउंड में जाकर प्रदर्शन करेंगे।कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों ने टिकरी और सिंघु बॉर्डर पर अपना डेरा बनाया हुआ है। जो किसान दिल्ली में घुस गए थे और रामलीला मैदान पहुंचने की कोशिश कर रहे थे उन्हें पुलिस ने हिरासत में लेकर बुराड़ी के निरंकारी मैदान में लाकर छोड़ दिया। दिल्ली के निरंकारी मैदान पर किसानों के लिए टेंट, शेल्टर, चलते-फिरते टॉइलट उपलब्ध कराए जा रहे हैं और व्यवस्था करने की कोशिश जारी है. लेकिन सड़कों और मैदानों में आम आदमी पार्टी के स्थानीय विधायकों के पोस्टर लग चुके हैं. जिसमें लिखा गया है कि, “देश के अन्नदाता किसानों का दिल्ली में हार्दिक स्वागत है.”
किसानों को भले ही पुलिस ने दिल्ली में जाने की अनुमति दे दी हो लेकिन कुछ किसान बुराड़ी के निरंकारी मैदान में जाने से इनकार कर रहे हैं। किसानों से कहा गया है कि वे केंद्र सरकार के कृषि कानूनों के खिलाफ संबंधित मैदान में प्रदर्शन जारी रख सकते हैं। वहीं कुछ किसानों का कहना है कि वे हरियाणा में फंसे किसानों का इंतजार कर रहे हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *