बिहार में धान खरीद के लिए 4000 एजेंसियों का चयन, इन जिलों में फसलों की खरीद शुरु

29 नवंबर,2020(इंडिया की दहाड़ ब्यूरो) देश के कुछ राज्यों में कृषि कानून को लेकर किसानों का विरोध जारी है। तो वहीं दूसरी तरफ बिहार में धान खरीद सहकारिता विभाग ने प्रक्रिया पूरी कर ली है। धान खरीद के लिए जहां 4000 एजेंसियों का चयन किया गया है। वहीं बेचने के लिए अब तक 72 हजार किसानों ने निबंधन भी कराया गया है। इसके साथ ही 4 जिलों में किसानों से खरीद शुरू भी हो गई है। सरकार ने पैक्सों को पैसा दे दिया और किसानों का निबंधन भी तेजी से होने लगा।

दरअसल, राज्य सराकर ने 30 लाख टन धान खरीदने का लक्ष्य तय किया है। अगर इतनी खरीद होती है तो लगभग 5500 करोड़ रुपये किसानों को बतौर कीमत मिलेंगे। सरकार ने इसका 40 प्रतिशत पैसा मंजूर कर दिया, लेकिन पैक्सों को अभी लगभग 1120 करोड़ यानी 20 प्रतिशत का ही कैश क्रेडिट लिमिट दी गयी है। पूरे पैसे का लिमिट इसलिए अभी नहीं दिया गया है, कि पैक्सों को सूद अधिक नहीं देना पड़े। साथ ही जैसे-जैसे वह खर्च करेंगे लिमिट बढ़ती जाएगी।

वहीं चार जिले के किसानों ने धान खरीद की बोहनी कर दी है। भोजपुर, बक्सर, नालंदा और मुंगेर जिलों में लगभग 18 किसानों ने धान बेचा है। इन किसानों से अब तक 107 टन धान की खरीद हुई है। दूसरे अन्य जिले के जिन किसानों का धान तैयार है एजेन्सियां खरीद की तैयारी कर रही हैं। इस दौरान किसानों की सबसे बड़ी समस्या नमी वाले धान को लेकर है। वहीं सरकार भी 17 प्रतिशत तक नमी वाला धान ही खरीदती है, जबकि अभी धान में 20 से 22 प्रतिशत तक नमी है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *