मण्डियों में होने वाली गेंहू की फसल की खरीद को लेकर हुई बैठक

उपायुक्त धर्मेन्द्र सिंह ने आगामी एक अप्रैल से मण्डियों में होने वाली गेंहू की फसल की खरीद को लेकर सम्बंधित अधिकारियों की बैठक ली और आवश्यक दिशानिर्देश दिए और कहा कि गेंहू की आवक को लेकर उसकी सफाई, झरना, बोरी भरना, सिंलाई, लोडिंग, ट्रांसपोर्टिंग इत्यादि को लेकर मण्डी वाईज  टैण्डर प्रक्रिया के लिए आवेदन मांगे जाए। इस टैण्डर प्रक्रिया में स्थानीय आढ़ती भी भाग ले सकते हैं।
उन्होंने कहा कि एक अप्रैल से होने वाली खरीद को लेकर सभी आढ़ती एसोसिएशन और अन्य प्रतिनिधियों से बातचीत की जाए, पिछली बार की तरह इस बार भी किसानों को उनकी फसल का पैसा सीधे तौर पर उनके खाते में दिया जाएगा और फसल की आढ़त का कमिशन आढ़ती के खाते में अलग से आएगा।
उन्होंने अधिकारियों से कहा कि मेरी फसल-मेरा ब्यौरा के तहत ऐसी लिस्ट तैयार की जाए जो किसान ऐसे हैं खुद अपने खाते में पेमेंट लेना चाहते हैं और कितने किसान ऐसे हैं जो आढ़ती के माध्यम से पैसे लेना चाहते हैं। जिला में कुल 12 खरीद केन्द्र बनाए जाएंगे। इसके साथ-साथ बड़े गांव जहां पर गेंहू की फसल की आवक ज्यादा होने की सम्भावना रहती है वहां पर अब की बार खरीद केन्द्र भी बनाए जा सकते हैं। इसके लिए अलग से बैठक की जाएगी।
कृषि विभाग के उपनिदेशक विरेन्द्र आर्य ने उपायुक्त धर्मेन्द्र सिंह को जानकारी देते हुए बताया कि जिला में मेरी फसल-मेरा ब्यौरा योजना के तहत 13 हजार 326 किसानों ने अपना रजिस्ट्रेशन करवाया है और जिसके तहत 1 लाख 12 हजार 116.44 एकड़ भूमि रजिस्टर्ड की गई है। कुल 2 लाख 21 हजार 144 एकड़ भूमि इस योजना के तहत कवर की जाएगी। यह कार्य कुल 199 गांवों में होगा और 184 गांवों में यह प्रक्रिया चल रही है, बचे हुए 15 गांव आगामी दो दिन में कवर कर लिए जाएंगे।

Leave a Comment