Sun. Jul 21st, 2019

TikTok, Kwai, LiveMe, LIKE, Helo, Welike जैसे ऐप पर बैन लगाने की मांग, आईटी मिनिस्टर रविशंकर प्रसाद को लिखा पत्र

सोशल मीडिया पर आए दिन आपको नए-नए वीडियो देखने को मिल रहे हैं। इनमें से कुछ वीडियो तो मजेदार हैं लेकिन कुछ वीडियो पूरी तरह से बच्चों के सामने अश्लीलता परोस रहे हैं। यदि आपने गौर किया होगा तो टिकटॉक, कवाई जैसे ऐप का प्रमोशनल वीडियो भी फेसबुक पर अश्लीलता के साथ आसानी से दिख जाएंगे। ये ऐप इसी वजह से काफी लोकप्रिय भी हो रहे हैं। वहीं अब यह बात सरकार तक पहुंच गई है। बीजेपी सांसद राजीव चंद्रशेखर ने TikTok, Kwai, LiveMe, LIKE, Helo, Welike जैसे ऐप पर बैन लगाने की मांग की है। उन्होंने आईटी मिनिस्टर रविशंकर प्रसाद को इस संबंध में एक पत्र भी लिखा है।

बच्चों के हाथ में अश्लील वीडियो परसोने का आरोप

उन्होंने अपने पत्र में लिखा है कि इन ऐप को भारत में फौरन बंद कर देना चाहिए क्योंकि इससे बच्चों का भविष्य खराब हो रहा है। इन ऐप्स पर अश्लील वीडियो और कंटेंट परोस जा रहे हैं। चंद्रशेखर के मुताबिक भारत में 44.4 फीसदी बच्चे हैं और इन ऐप्स से उनके भविष्य को खतरा है लेकिन आईटी मंत्रालय का इस ओर बहुत ही कम ध्यान है। एक रिपोर्ट के मुताबिक साल 2017 में भारत में 2.4 मिलियन ऑनलाइन चाइल्ड सेक्सुअल की शिकायतें दर्ज हुई हैं।

इन ऐप पर यूजर्स आसानी से छोटे-छोटे वीडियो बना रहे हैं। उसमें गाने डाल रहे हैं। कई ऐप्स में के जरिए बच्चे किसी भी वीडियो में अपनी आवाज डाल कर गालियां भी रिकॉर्ड कर रहे हैं। बता दें कि केवल TikTok के ही भारत में 2 लाख मंथली एक्टिव यूजर्स हैं। दूसरे शब्दों में कहें तो एक तरह से भारत में चाइनीज ऐप का दबदबा बन रहा है और वह भी गलत तरीके से।

इन ऐप्स पर 13 से 19 साल के बीच के युवा लड़के-लड़की किसी गाने पर लिप सिंकिंग करके शॉर्ट वीडियो बनाने के ट्रेंड को काफी पसंद कर रहे हैं। यहां एक और बात गौर करने वाली यह है कि कहने के लिए तो इस तरह के ऐप लोकल हैं लेकिन इनकी प्राइवेसी पॉलिसी या तो चाइनीज में है या फिर अंग्रेजी में।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *