बैंक में सेंध लगाकर सवा करोड़ रुपये चुरा ले गए चोर  पीछे की दिवार तोडक़र अंदर घुस दिया घटना को अंजाम

24 snp-8a
: सोनीपत(  आदेश त्यागी ) सोनीपत , बैंक की तोड़ी गई दिवार,  मौके पर जांच करती डॉग स्कायड, मौके पर मौजूद पुलिस अधिकारी व जानकारी देते बैंक प्रबंधक संतोष यादव।
सोनीपत। सैदपुर गांव के नाहरा-बहादुरगढ़ मार्ग पर स्थित ओरियंटल बैंक ऑफ कामर्स में रात के समय चोरों ने सेंध लगाकर करीब सवा करोड़ रुपये की नकदी चोरी कर ली। चोर बैंक के पीछे बने बाथरूम की दिवार को तोडक़र बैंक में घुसे जिसके बाद बैंक में रखी नकदी पर हाथ साफ कर ले गए। मामले की सूचना सुबह बैंक खुलने पर चली। जिसके बाद घटना की जानकारी पुलिस को दी गई।
सैदपुर के ओबीसी बैंक में रात के दौरान चोरों ने सेंध लगाई। चोरों ने बैंक की पिछली दिवार को तोड़ा। जिसे तोडक़र चोर बैंक के बाथरूम में प्रवेश कर गए। जिसके बाद बैंक अंदर रखी गई नकदी को चुराया गया। घटना की जानकारी उस दौरान मिली जब बैंक को सुबह के समय खोला गया। बैंक के पिछले हिस्से की दिवार तोडक़र स्ट्रांग रूम में प्रवेश करने के लिए एग्जास्ट फेन को तोड़ा गया। जिसके बाद अंदर रखी अलमारी को ऊपर से काटकर उसमें रखी नकदी पर चोरों ने हाथ साफ किया।
1 करोड़ 22 लाख 91 हजार 837 की चोरी
बैंक से चोरों ने 1 करोड़ 22 लाख 91 हजार 8 37 रुपये की रकम चोरी की है। बैंक की ओर से चोरी हुई नकदी में 50 हजार रुपये की चालू हालत की नकदी बताई जा रही है।
दूसरे स्थान से भी सेंध लगाने की गई कोशिश
चोरों द्वारा बैंक की पिछली दिवार में दो स्थानों से सेंध लगाने की कोशिश की गई है। एक स्थान पर जल्दी कामयाबी मिलने पर दूसरे स्थान पर निकाली जा रही ईंटों को ऐसे ही छोडक़र चोर चलते बने।
एसपी ने मौके का किया निरीक्षण
एसपी सोनीपत सूचना पाकर मौके पर पहुंचे और उन्होंने निरीक्षण करने के बाद कहा कि चोरो द्वारा शातिर तरीके से घटना को अंजाम दिया गया है। आरोपियों को पकडऩे के लिए एसआईटी गठित की गई है। जिसमें खरखौदा व सोनीपत की एसआईटी के साथ ही साइबर सेल भी काम करेगी। डीएसपी राहुल देव इसका नेतृत्व करेंगे। वहीं डीएसपी प्रदीप कुमार व थाना प्रभारी भी इसमें शामिल होंगे।
बैंक प्रबंधक संतोष यादव
ओबीसी बैंक प्रबंधक संतोष यादव ने बताया कि बैंक में चोरी होने की सूचना तत्काल प्रभाव से आला अधिकारियों को देने के साथ ही पुलिस को भी दे दी गई थी। चोरों ने स्ट्रांग रूम में रखी 1 करोड़ 22 लाख 91 हजार 837 रुपये चोरी किए है।
एफएसल ने जुटाए नमूने
घटना स्थल पर पहुंची एफएसएल की टीम ने मौके का गहनता से निरीक्षण कर नमूने एकत्रित किए। बैंक के बाहर से लगाई गई सेंध से लेकर अंदर स्ट्रांग रूम से भी एफएसएल की टीम ने नमूने लिए।
डॉग स्कायड की भी ली गई मदद
घटना की जहां गहनता से जांच करने में पुलिस जुटी हुई हैं। वहीं इस दौरान डॉग स्कायड की भी मदद ली गई। ताकि चोरों के बारे में पता लगाया जा सके। इस दौरान चोरों द्वारा जहां से सेंध लगाई गई, वहां से लेकर बैंक के अंदर के हिस्से में भी डॉग स्कायड की टीम ने निरीक्षण किया।
इससे पहले गोहाना बैंक में हुई लूट
इससे पहले साल 2014 में सोनीपत में ही फिल्मी स्टाइल में बदमाशों ने पंजाब नेशनल बैंक को लूटा था। आप यह जानकर हैरान होंगे कि बदमाशों ने 150 फुट लंबी सुरंग बनाई थी, जो एक मकान से शुरू हुई और बैंक के अंदर तक पहुंची थी। सुरंग बनाने के दौरान बीच में सडक़ भी पड़ी, उसके अंदर की जमीन को भी बदमाशें ने खोद डाला और 86 लॉकर तोड़ कर नकदी व कीमती जेवर लूट लिए। खास बात यह थी कि इस सुरंग को बनाने में करीब एक महीना लगा और लोकल इंटेलीजेंस को इसकी भनक तक नहीं लगी। बैंक में कुल 360 लॉकर थे, जिनमें से 88 लॉकर तोडऩे में चोर सफल हुए। साथ ही बैंक के करीब 40 लाख रुपये भी गायब मिले थे।

Leave a Comment