कैथल शहर के चौराह पर लगा जाम। 

दहाड़ न्यूज़ ;03 Ktl-1 कैथल शहर के चौक चौराहों सहित बाजारों में अतिक्रमण होने के कारण लोगों को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। जिस कारण आए दिन बाजारों में जाम लगने से लोगों को दिक्कत होती है। मेन बाजार, तलाई बाजार, सर्राफा बाजार, सब्जी मंडी रोड, भगत सिंह चौक, कृष्णा क्लाथ मार्केट, अंबाला रोड, करनाल रोड, कबूतर चौक, सब्जी मंडी में दुकानदारों के द्वारा सामान रख कर अतिक्रमण किया गया है। दूकानदारों ने सामान रखकर आधी से ज्यादा सडक़ को घेर लिया है और इस कारण वाहनों चालकों के निकलने तक का रास्ता नहीं बचता। अतिक्रमण के कारण आए दिन हादसे होते हैं और घंटों तक लोग जाम में फसे रहते है। जाम में फसे लोगों के बीच अकसर कहासुनी हो जाती है और कई बार नौबत लड़ाई झगड़े तक भी पहुंच जाती है। अंबाला रोड पर बने बैंकों के सामने लोगों बेतरतीब तरीके से वाहनों को खड़ा कर चले जाते हैं और कई कई घंटों तक वाहनों की सूध नहीं लेते। शहर के बाजारों में पार्किंग की समस्या होने के कारण भी लोगों को दिक्कत होती है, लोग बाजार में वाहन को खड़ा कर चले जाते हैं, जिस कारण बाजार में पैदल सवार तक के निकलने के लिए जगह नहीं बचती। राज कुमार, सुनील दत्त, अमित बोहत, राजन ने बताया कि अतिक्रमण के लोगों को परेशानी होती है और बार बार जाम लगता है। वैसे तो चौक चौराहों पर पुलिस कर्मियों को भी तैनात किया गया है। लेकिन अकसर पुलिस कर्मियों को फोन में उलझे हुए देखा जा सकता है। प्रशासन को अतिक्रमण के खिलाफ जोरदार अभियान चलाना चाहिए ताकि शहर वासियों को बार बार लगने वाले जाम से मुक्ति मिल सके। संजीव कुमार ने बताया कि मेन बाजार, तलाई बाजार, सर्राफा बाजार व मेन बाजार के पास पार्किंग बनाई जानी चाहिए ताकि लोग पार्किंग में अपने वाहनों को खड़ा कर बाजार में जा सके। पार्किंग बनने से लोगों को राहत मिलेगी। राजू ने बताया कि चौक चौराहों के साथ साथ उन बाजारों एवं गलियों में भी पुलिस कर्मियों की तैनाती की जानी चाहिए, जहां सबसे अधिक जाम की स्थिति बनती है ताकि बार बार लगने वाले जाम को खुलवाया जा सके। कैथन निवासी सन्नी ने बताया कि जिला प्रशासन के द्वारा अतिक्रमण करने वालों के खिलाफ अभियान चलाया जाना चाहिए और बाजारों में सडक़ों पर रखे गए सामान को उठवाया जाना चाहिए ताकि सडक़ और चौड़ी हो सके और वहां वाहन आराम से निकल सके। बलिंद्र नरड़ ने बताया कि नेताओं की शह पर लोगों के द्वारा अतिक्रमण किया गया है और जब भी प्रशासन अतिक्रमण को हटाने को लेकर कोई कदम उठाने का प्रयास करता है तो स्थानीय नेताओं के द्वारा ही उन्हें रोक दिया जाता है। इसी प्रकार भगत सिंह चौक पर अतिक्रमण किया गया है। नप चेयरमैन यशपाल प्रजापत ने कहा कि अतिक्रमण एक गंभीर समस्या और जल्द ही प्रशासन के द्वारा अतिक्रमण करने वालों के खिलाफ अभियान चलाया जाएगा। शहर वासियों को किसी भी प्रकार की दिक्कत का सामना नहीं करने दिया जाएगा।

Leave a Comment