वकीलों ने दूसरे दिन भी रखा वर्क सस्पेंड पुलिस कर्मियों की गिरफ्तारी नहीं होगी जब तक वर्क सस्पेंड कर हड़ताल जारी रखेंगे

3 snp-6
 सोनीपत (आदेश त्यागी )  अपनी मांगों को लेकर दूसरे दिन भी वर्क सस्पेंड कर हड़ताल पर बैठे बार एसोसिएशन सदस्य।
सोनीपत। पुलिस पर एक अधिवक्ता के साथ बदसलूकी का आरोप लगाते हुए कार्रवाई होने तक वर्क सस्पेंड पर गए वकीलों ने दूसरे दिन भी काम बंद रखा। वकीलों का कहना है कि जब तक दोषी पुलिस कर्मचारियों पर मामला दर्ज नहीं किया जाता है तब तक वह वर्क सस्पेंड रखेंगे। वकीलों का कहन है कि पुलिस वकीलों को भी भीड़ का हिस्सा समझकर मनमाना रवैया अपना रही है। जबकि वह अपने साथी वकील के साथ हुई बदसलूकी को लेकर चुप नहीं बैठेंगे। खरखौदा बार एसोसिएशन के समर्थन में आई सोनीपत बार एसोसिएशन ने भी शनिवार को वर्क सस्पेंड कर कार्रवाई की मांग की।
गांव कंवाली निवासी एक वकील सुमित दहिया ने आरोप लगाया था कि उसके भाई के साथ पड़ोसी द्वारा किए जा रहे झगड़े का उसने ना केवल बीच-बचाव करवाया बल्कि पुलिस को भी सूचना दी। लेकिन पुलिस द्वारा उसे ही चौकी में बुलाकर ना केवल समझौते का दबाव बनाया गया बल्कि उसके द्वारा समझौते से मना करने पर उसे पर भी विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर हवालात में बंद कर दिया। अधिवक्ता ने आरोप लगाया कि उसे नग्न अवस्था में हवालात में बंद किया गया। मामले की शिकायत डीएसपी प्रदीप को देने पर वकीलों की मांग पर झरोठ चौकी इंचार्ज सुरेश कुमार व मुंशी कांस्टेबल विरेंद्र को लाइन हाजिर किया गया था। लेकिन खरखौदा बार एसोसिएशन पुलिस कर्मचारियों पर मुकदमा करने की मांग करते हुए हड़ताल पर चला गया। जिसके तहत शनिवार को दूसरे दिन भी खरखौदा बार एसोसिएशन ने वर्क सस्पेंड रखा वहीं सोनीपत बार एसोसिएशन ने भी इसका समर्थन करते हुए वर्क सस्पेंड कर दिया। वहीं शनिवार की शाम को वकीलों ने न्यायालय में पुलिस कर्मियों के खिलाफ इस्तगासा डाल दिया और कहा कि जब तक पुलिस कर्मियों की गिरफ्तारी नहीं होगी तब तक वह वर्क सस्पेंड रखते हुए अपनी हड़ताल को जारी रखेंगे। वकीलों ने कहा कि अगर सोमवार तक पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई नहीं हुई तो वह प्रदेश व्यापी हड़ताल शुुरू करेंंगे।
——————-

Leave a Comment