अच्छे लोगों को बालग्राम राई से जोडऩा होगा : पीके महापात्रा

6 SNP-2
सोनीपत ( आदेश त्यागी ) सोनीपत , महिला एवं बाल विकास विभाग, हरियाणा के अतिरिक्त मुख्य सचिव पी के महापात्रा ने विभाग की महिला अधिकारियों व कर्मचारियों को गांव स्तर पर गर्भवती महिलाओं का शत-प्रतिशत रजिस्टे्रशन करने के निर्देश दिए है। उन्होंने कहा कि जो भी आंगनवाड़ी वर्कर अपने गांव में 90 प्रतिशत गर्भवती महिलाओं का रजिस्ट्रेशन करवाएगी उसे जिला स्तर पर आयोजित किए जाने वाले स्वतंत्रता दिवस समारोह में सम्मानित करवाया जाएगा।  महापात्रा मंगलवार को उपायुक्त के मकरंद पांडुरंग के साथ बालग्राम राई का निरीक्षण करने के उपरांत परिसर में ही विभाग की महिला अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश जारी कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि अगर कोई आंगनवाड़ी वर्कर अपने गांव में 100 प्रतिशत गर्भवती महिलाओं का रजिस्ट्रेशन करवाती है तो विभाग उसे राज्यपाल के हाथों सम्मानित करवाने की भी सिफारिश करेगा। बेटी बचाओ – बेटी पढ़ाओ अभियान को लेकर राज्य सरकार बेहद गम्भीर है और गर्भवती महिलाओं का रजिस्ट्रेशन इस दिशा में बेहद कारगर साबित हो सकता है। आंगनवाड़ी सुपरवाईजर व वर्कर की यह नैतिक जिम्मेदारी भी बनती है कि वे इस बात पर नजर रखे कि कहीं किसी गर्भवती महिला ने गर्भपात तो नहीं करवाया है अगर ऐसा उनके संज्ञान में आता है तो इसकी सूचना तुरंत उच्चाधिकारियों को दें, ताकि मामले आवश्यक कार्यवाही की जा सके। उन्होंने कहा कि विभाग को पंजीरी तक सीमित न रखे और सामाजिक विकास के कार्य में अपना योगदान दें। महापात्रा ने कहा कि बालग्राम राई से उन महिलाओं को सेवाओं के लिए जोड़ा जा सकता है जो स्वयं बेसहारा होकर दूसरों को सहारा देने की इच्छा अपने मन में लिए हुए है। उन्होंने कहा कि भारत गणराज्य हरेक बच्चे को उसके मौलिक अधिकार प्रदान करने के लिए वचनबद्ध है। ऐसा लक्ष्य मानकर चलना चाहिए कि कोई भी अभिभावक अपने बच्चे के साथ मारपीट न करें और कोई भी बच्चा भीख मांगने के लिए बाध्य न हो। उन्होंने बालग्राम राई में रहने वाले बच्चों की पढ़ाई, खेल, स्वास्थ्य व खानपान आदि के बारे में भी अधिकारियों से रिपोर्ट ली और बच्चों को गोद देने के संबंध में अपनाई जाने वाली प्रक्रिया के बारे में पूछताछ की। महिला विरूद्ध घरेलू हिंसा का जिक्र करते हुए महापात्रा ने कहा कि बाल विकास परिजयोजना अधिकारी व आंगनवाड़ी वर्कर खास तौर पर इस बात पर नजर रखे कि कहीं बेटी को जन्म देने वाली महिला घरेलू हिंसा का शिकार तो नहीं हो रही है अगर ऐसा पाया जाता है तो इसकी सूचना तुरंत महिला पुलिस स्टेशन में दे। उन्होंने कहा कि नवविवाहित दम्पतियों को भी विवाह रजिस्ट्रेशन के लिए प्रेरित करना होगा और बाल विवाह को रूकवाने वाले महिला कर्मचारियों को पुरस्कार भी दिया जाएगा। महापात्रा ने महिला एवं बाल विकास विभाग की अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे प्रयास करके हर स्कूल में यौन उत्पीडऩ निरोधक कमेटी गठित करवाए और प्राचार्य द्वारा किसी एक अध्यापक की इस मामले में जिम्मेदारी भी निर्धारित करवाई जाए।  उन्होंने कहा कि विभाग की अधिकारियों व कर्मचारियों को बेटी बचाओ – बेटी पढ़ाओ, घरेलू हिंसा, बाल विवाह व जातिगत झगड़ों आदि की गांव स्तर की रिपोर्ट उपायुक्त को उपलब्ध करवानी होगी। उन्होंने उपायुक्त के साथ भवन का निरीक्षण भी किया और आवश्यक दिशा निर्देश जारी किए।
————–
मकान से नकदी व कागजात चोरी
सोनीपत। कस्बे खरखौदा के एक मकान में चोरी हो गई। चोर मकान में घुसकर नकदी व मोबाइल सहित जरूरी कागजात भी चोरी कर ले गए। पीडि़त मकान मालिक की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। खरखौदा के गोपालपुर मार्ग निवासी पवन ने बताया कि उसके मकान में घुसकर चोर 35 हजार रुपये की नकदी, चार मोबाइल, ड्राइविंग लाइसेंस, कार की आरसी, आधार कार्ड व वोटर कार्ड सहित अन्य जरूरी कागजात चोरी कर ले गए। शिकायत पर पुलिस ने अज्ञात पर चोरी का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Leave a Comment