गन्नौर के दातौली में धूमधाम से मनाया गीता जयंती महोत्सवएसडीएम निर्मल नागर कर्म करो फल की इच्छा मत करो, ये है गीता का ज्ञान

गन्नौर, ( आदेश त्यागी ) गन्नौर राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय दातौली में खंड स्तर पर आयोजित गीता जयंती महोत्सव का दीप प्रज्वलित कर शुभारंभ करते हुए एसडीएम निर्मल नागर ने कहा कि कर्म पर व्यक्ति का अधिकार है किंतु उसके परिणाम व्यक्ति के हाथ में नहीं होते।
एसडीएम निर्मल नागर ने कहा कि गीता के संदेश को घर-घर तक एवं जन-जन तक पहुंचाना है। इसी उद्देश्य से बड़े स्तर पर हरियाणा में गीता जयंती महोत्सव का IMG-20161206-WA0085आयोजन किया जा रहा है। पहले केवल कुरुक्षेत्र में इस महोत्सव का आयोजन किया जाता था। उसके पश्चात गत वर्ष जिला स्तर पर गीता महोत्सव के आयोजनों की शुरुआत की गई और इस वर्ष से खंड स्तर पर भी इसके आयोजन की ओर सफल कदम बढ़ाये गये हैं। उन्होंने कहा कि गीता एक संपूर्ण संस्कृति है, जो जीवन के हर मोड़ पर मार्गदर्शन करती है
इस मौके पर विभिन्न प्रकार की प्रतियोगिताओं का भी आयोजन किया गया जिनमें विभिन्न विद्यालयों के विद्यार्थियों ने बढ़-चढक़र हिस्सा लिया। प्रतियोगिता में दातौली की आरती ने प्रथम व बेगा की अंजू, कोमल व राधा ने संयुक्त रूप से द्वितीय तथा दातौली की शिवानी ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। भाषण प्रतियोगिता में बेगा की काजल ने प्रथम व दातौली की मोनिका ने द्वितीय तथा शिवानी ने तृतीय स्थान हासिल किया। निबंध लेखन स्पर्धा में चिरस्मी की मोनिका ने प्रथम, दातौली की काजल ने द्वितीय और चिरस्मी की दिव्या ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। प्रश्रोत्तरी में दातौली की कोमल व मनस्वी की टीम ने प्रथम तथा सुदामा व मोहित की जोड़ी ने द्वितीय और मोहित व नितिन की जोड़ी ने तृतीय स्थान अर्जित किया। इसके अलावा रंगोली स्पर्धा में बेगा की बबली व मुस्कान ने प्रथम तथा दातौली की रीना व रितु ने तृतीय और दातौली की लक्ष्मी व निशा ने तृतीय स्थान हासिल किया।
इस अवसर पर तहसीलदार हरिओम अत्री, नायब तहसीलदार देशराज कंबोज, प्रिंसीपल सतपाल वर्मा आदि मौजूद थे।

Leave a Comment