नोटबंदी ने उभारी नप की बैलेंस सीट  हाउस टैक्स की राशि बढ़ी, दुकानों का भी एडवांस आया किराया

सोनीपत ( आदेश त्यागी ) सोनीपत  आठ नवंबर को एक हजार व पांच सौ रुपये की पुरानी करेंसी बंद होने के बाद गोहाना नगरपरिषद (नप) में हाउस टैक्स जमा राशि को बढ़ावा मिला है। वहीं नप की बैलेंस सीट भी उभर गई है। नोटबंद होने के बाद लोगों ने रुचि के साथ अपना टैक्स जमा करवा। वहीं नप द्वारा किराए पर दी गई दर्जनों दुकानों का किराया भी दुकानदारों ने एडवांस में जमा करवा दिया है। जहां नोटबंदी को लेकर बिजली, पानी, सीवरेज के बकाया बिलों को लोगों ने जमा करवा दिया। वहीं नगर परिषद में हाउस टैक्स की राशि में भी उछाल आया है।
लाखों रुपये आया टैक्स
नगर परिषद द्वारा लोगों को नोटिस दिए जाने के बाद जहां 60 हजार रुपये ही टैक्स जमा हो पाया था। नोटबंदी के बाद यह आकड़ा एक लाख 45 हजार रुपये पहुंच गया। वहीं कर्मचारियों का कहना है कि अब उन्हें टैक्स के लिए लोगों से ज्यादा बातचीत नहीं करनी पड़ी ओर वह अपने आप ही रुचि लेकर टैक्स जमा करवाते नजर आए।
15 दुकानों का भी आया किराया
नप द्वारा शहर के विभिन्न हिस्सों में लगभग 320 दुकानें दुकानदारों को किराए पर दे रखी है। नोटबंदी के बाद सिविल मार्ग पर मौजूद 15 दुकानों के दुकानदारों ने अगले 6 महीने का किराया जमा करवा दिया। लगभग 55 हजार रुपये राशि दुकानदारों ने एडवांस में नप में किराए जमा करवाया।

Leave a Comment